Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
रेलवे से रिटायर्ड इंजीनियर को दबंग ठेकेदार ने अपने दो साथियों के साथ रात भर बंधक बनाकर पीटा राखी बंधवाने आए एक युवक की दो लोगों ने ब्लेड से रेत दिया गला, आरोपियों के तलाश मे पुलिस राज्य कर्मचारियों ने निकाली तिरंगा यात्राः डीएम ने बढाया हौसला एपीएन के छात्रों ने निकाली तिरंगा यात्रा पोषण व पुनर्वास केन्‍द्र में भर्ती बच्‍चों ने एक दूसरे को बांधी राखी गर्भावस्था में महिलाएं हो सकती हैं वैनिशिंग ट्विन सिंड्रोम की शिकार नगर पंचायतों में जलकर प्राप्त करने के लिए डीएम ने दिए निर्देश बेगम खैर गर्ल्स इण्टर कालेज की छात्राओं ने निकाली तिरंगा यात्रा 14 अगस्त को आयोजित हो रहे तिरगां यात्रा को लेकर तैयारियों पर चर्चा आज मेट्रो ट्रेन मॉडल का वर्चुअल अनावरण करेंगे मुख्यमंत्री योगी

मछलीपालन के नाम पर हो सकता है धोखाधड़ी, रहें सतर्क

बलौदाबाजार, 2 नवम्बर 2020/बलौदाबाजार सहित राज्य में कुछ अशासकीय संस्थाओं, फम्र्स द्वारा मछली कृषकों की पूर्ति पर तालाब निर्माण करवाकर मछली पालन का व्यवसाय करवाने के नाम पर विभिन्न योजनाएं प्रसारित की जा रही है। इन संस्थाओं द्वारा कृषकों से एक बड़ी राशि लेकर उनकी ही भूमि पर मछली पालन का व्यवसाय करने एवं उन्हें एक निश्चित मासिक आय का प्रलोभन दिया जा रहा है। कांट्रेक्ट फार्मिंग या राशि को दोगुना करने जैसे नाम से ये प्रस्ताव ऐसी फम्र्स दे रही है। सहायक संचालक मत्स्य श्री के.के.सिंह ने सर्वसाधारण को सूचित किया है कि मछली पालन विभाग अथवा छत्तीसगढ़ शासन ऐसी किसी योजना को प्रमाणित नहीं करता है अतएव कोई भी मछली कृषक ऐसी किसी भी योजना से स्वयं चिार कर एवं वैधानिक आर्थिक पक्षों को भली-भांति समझकर ही राशि निवेश करें। संबंधित जानकारी के लिए मछली विभाग से संपर्क कर सकते है।