Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
गायत्री शक्तिपीठ में श्रद्धापूर्वक मनाया गया गुरु पूर्णिमा पर्व स्व. विष्णुदत्त ओझा के पुण्य तिथि पर रक्तदान, संगोष्ठी 25 को, तैयारियां पूरी जवाहर नवोदय विद्यालय मे प्रवेष हेतु 11 अगस्त को विभिन्न केन्द्रों पर होगी परीक्षा विधायक संजय ने किया राशन कोटेदारों को भुगतान दिलाने की मांग डीएम. एसपी ने सुनीं फरियादियों की समस्याएं, दिए निर्देश  छिनैती व चोरी करने वाले अन्तर्जनपदीय गिरोह के दो शातिर पुलिस मुठभेड़ में गिरफतार बस्ती में चल रहे भोजपुरी फिल्म सतरंगी बालम में नजर आयेंगी फेमस हिरोइन नीलू शंकर इनकम टैक्स की रेड के खिलाफ आप कार्यकर्ताओं ने सौंपा ज्ञापन विधि सम्मत ही करें कानून का उपयोग -सौम्या अग्रवाल अस्पताल जाएं तो विशेष सतर्कता अपनाएँ : - सीएमओ

मछलीपालन के नाम पर हो सकता है धोखाधड़ी, रहें सतर्क

बलौदाबाजार, 2 नवम्बर 2020/बलौदाबाजार सहित राज्य में कुछ अशासकीय संस्थाओं, फम्र्स द्वारा मछली कृषकों की पूर्ति पर तालाब निर्माण करवाकर मछली पालन का व्यवसाय करवाने के नाम पर विभिन्न योजनाएं प्रसारित की जा रही है। इन संस्थाओं द्वारा कृषकों से एक बड़ी राशि लेकर उनकी ही भूमि पर मछली पालन का व्यवसाय करने एवं उन्हें एक निश्चित मासिक आय का प्रलोभन दिया जा रहा है। कांट्रेक्ट फार्मिंग या राशि को दोगुना करने जैसे नाम से ये प्रस्ताव ऐसी फम्र्स दे रही है। सहायक संचालक मत्स्य श्री के.के.सिंह ने सर्वसाधारण को सूचित किया है कि मछली पालन विभाग अथवा छत्तीसगढ़ शासन ऐसी किसी योजना को प्रमाणित नहीं करता है अतएव कोई भी मछली कृषक ऐसी किसी भी योजना से स्वयं चिार कर एवं वैधानिक आर्थिक पक्षों को भली-भांति समझकर ही राशि निवेश करें। संबंधित जानकारी के लिए मछली विभाग से संपर्क कर सकते है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.