Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
यूपी की भाजपा सरकार को तिरंगा यात्रा भी लगता है अवैध- संजय सिंह जागरूकता का परिचय दें अन्त्योदय कार्ड धारक, बनवाएं आयुष्मान कार्ड 30 अक्टूबर तक जिले के सभी बैंक शाखाओं पर आयोजित किया जायेंगा कैम्प सपा की मासिक बैठक में बनी रणनीति इस बार दीपवाली में 11 फिट के दिये के साथ जगमगाएगा अमहट घाट श्रमिको के लिए कल्याणकारी योजनाओं को संचालित कर रही है प्रदेश सरकार-सुनील कुमार भराला टीकाकरण कर्मियों की लगन का फल है सफल टीकाकरण एक माह में नौ हजार अंत्योदय लाभार्थियों ने किया आवेदन श्री रामलीला महोत्सव में गुरुवार को राम बारात एवं राम विवाह का किया गया मंचन 100 करोड़ कोविड टीकाकरण में जिले ने दिया 8.55 लाख का योगदान

भाटापारा।अगर नगर पालिका की व्यवस्था बिगड़ी तो पहला हाथ में मारूंगा


भाटापारा । नगर पालिका में सफाई कर्मी द्वारा आत्महत्या किए जाने के बाद लंबे समय से अव्यवस्थित पालिका प्रशासन के खिलाफ आक्रोश मुखर होने लगा है। घटना के बाद मौके पर पहुंचे विधायक द्वारा पूछताछ किए जाने के दौरान अधिकारी और जनप्रतिनिधियों के अलावा अन्य लोगों द्वारा जवाब दिए जाने और हस्तक्षेप किए जाने पर माहौल गर्म हो गया। विधायक ने मीडिया से कहा कि चुने हुए जनप्रतिनिधियों के अलावा अन्य लोग पालिका चलाने प्रयास कर रहे हैं, हम यहां व्यवस्था की बात करने आए हैं और वो यहां कांग्रेस भाजपा कर रहे हैं। जिसके कारण परिस्थितियां बिगड़ रही है,उन्होंने गर्मा गर्मी के बीच आक्रोशित होकर कहा कि अन्य लोग माहौल न बिगाड़े जनप्रतिनिधियों को काम करने दे, अगर हाथ उठाने की स्थिति आई तो भी शहर हित में पीछे नहीं हटेंगे।
घटना के दौरान भारी भीड़ और गरमा गरमी के बीच हल्ला गुल्ला और नारेबाजी भी हुई। आरोप-प्रत्यारोप के बीच सीएमओ ने पेमेंट ना होने की बात खारिज कर बताया कि उक्त कर्मचारी को एडवांस मदद भी दी गई थी। मौके पर पार्षदों के रिश्तेदारों एवं प्रतिनिधियों द्वारा हस्तक्षेप से माहौल बिगड़ते रहा।
नगर पालिका गठन के बाद से ही सामान कामकाज भी सुचारू नहीं हो पाया है ,नागरिकों की अपेक्षाओं के अनुरूप कोई बड़ा काम, व्यवस्था परिवर्तन नहीं दिखा है। पालिका में गुटबाजी और जनप्रतिनिधियों के प्रतिनिधियों की सक्रियता और राजनीति से माहौल बिगड़ रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.