Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
100 करोड़ कोविड टीकाकरण में जिले ने दिया 8.55 लाख का योगदान 28 अक्टूबर से 4 नवंबर तक किया जाएगा दीपावली मेला का आयोजन पौराणिक कूओ का जीर्णोद्धार एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम का शुरुआत ई-प्राजीक्यूशन पोर्टल पर नियमित रूप से मुकदमों का विवरण अपलोड करने के निर्देश कांग्रेस की बैठक में बनी प्रियंका गांधी के रैली की रणनीति श्री रामलीला महोत्सव में धनुषयज्ञ व परशुराम लक्ष्मण संवाद की लीला का हुआ मंचन,श्रद्धालु हुए मंत्रमुग... डियूटी मे लापरवाही बरतने वाले 7 पुलिस कर्मियों पर गिरी निलम्बन की गाज, विभागीय जांच शुरू कोरोना से बचने के लिए शुरु हुई फेस्टिवल फोकस्ड सैम्पलिंग प्रत्येक ब्लाक में प्रतिदिन 05 हजार कोविड टीकाकरण का लक्ष्य पूरा करने के निर्देश अतिवृष्टि से खराब हुयी फसल की क्षतिपूर्ति प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप पर आवेदन कर सकते हैं...

मास्क नही लगा रहे हैं लोग, फिर लग सकता है लाकडाउन

नेशनल डेस्कः कोरोना वायरस के संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में एक बार फिर संकट दिखने लगा है। यहां लोग जरूरी एहतियात नही बरत रहे हैं। अब रोजाना तीन हजार से ज्‍यादा मामले सामने आ रहे हैं. मुंबई के आंकड़े भी डराने वाले हैं. इस बीच, मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि अगर लोग दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करेंगे तो मजबूरी में लॉकडाउन लगाना पड़ेगा।

उन्होने कहा कि महाराष्‍ट्र और मुंबई में कोरोना के बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है. ट्रेनों में यात्रा करते समय ज्‍यादातर लोग मास्‍क नहीं लगा रहे हैं. लोकल ट्रेनों में इतनी भीड़ होने के बावजूद लोग मास्‍क का उपयोग नहीं कर रहे हैं. लोगों को अभी कोरोना के नियमों का पालन करना चाहिए. लोग नियमों का पालन नहीं करेंगे तो हम एक और लॉकडाउन की तरफ आगे बढ़ेंगे. लॉकडाउन को फिर से लागू किया जाए या नहीं यह लोगों के हाथ में है। पिछले कुछ समय से महाराष्‍ट्र में कोरोना के नए मामलों की संख्‍या काफी कम हो गई थी. महाराष्ट्र में रविवार को 4,092 नए मामले सामने आए थे. संक्रमण के मामलों में जारी वृद्धि के बीच राज्य सरकार ने ’’सख्त निर्णय’’ लिए जाने को लेकर आगाह किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.