Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
11 दिसम्बर को आयोजित होगा राष्ट्रीय लोक अदालत पूर्वांचल विकास बोर्ड के सलाहकार साकेत मिश्रा ने गिनाई भाजपा सरकार की उपलब्धियां पुलिस अधीक्षक ने किया यातायात माह नवम्बर-2021 का समापन अपर पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई सेवानिवृत्त कर्मचारियों की विदाई भारतीय एकता सदभावना मिशन के राष्ट्रीय महासचिव बने नोमान डीएम ने किया 2 किसान सेवा सहकारी समिति का औचक निरीक्षण कप्तानगंज की समिति पर बन्द मिला ताला छात्र संघ चुनाव में एनएसयूआई ने अंकुर पाण्डेय को घोषित किया अपना उम्मीदवार शिक्षकों ने बैठक में बनाया राष्ट्रीय आन्दोलन में हिस्सेदारी की रणनीति टीईटी परीक्षा के साल्वर गैंग के 5 गुर्गों को पुलिस ने किया गिरफ्तार ई0वी0एम0 एवं वी0वी0 पैट जागरूकता अभियान के तहत डीएम ने किया एल0ई0डी0 वैन को हरी झ्ांडी दिखाकर रवाना

विधायक संजय ने 43 मनमाने पट्टों के आवंटन मामले में मुख्यमंत्री को भेजा पत्र

उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा के विरूद्ध कार्रवाई की मांग

बस्ती – रूधौली विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने 43 लोगों को अवैधानिक रूप से पट्टा दिये जाने के मामले में मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर जांच अधिकारी राजेश सिंह की आख्या के आधार पर उप जिलाधिकारी बस्ती सदर आशाराम वर्मा के विरूद्ध कड़ी विधिक कार्यवाही किये जाने की मांग किया है।
मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने कहा है कि सल्टौआ विकास खण्ड के ग्राम पंचायत पोखरभिटवा में तत्कालीन उप जिलाधिकारी ने पैसे के बल पर ऐसे लोगों को आवासीय पट्टा दे दिया गया जो दो तीन कोठियों और कई एकड़ जमीनों के मालिक हैं। पत्र में कहा गया है कि प्रकरण संज्ञान में आने के बाद भाजपा किसान मोर्चा उपाध्यक्ष चन्द्रेश प्रताप सिंह के द्वारा भी तत्कालीन जिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया गया किन्तु जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा के स्वजातीय एवं कृपा पात्र होने के कारण कोई कार्यवाही नहीं किया। विधायक संजय ने कहा है कि उन्होने स्वंय प्रभारी मत्री को पत्र के माध्यम से अवगत कराया।
विधायक संजय प्रताप ने कहा है कि समाचार पत्रों में प्रकरण की खबरों के प्रकाशन के बाद उप जिलाधिकारी राजेश सिंह ने 43 लोगांे के आवासीय पट्टा आवंटन की जांच किया। उनमें सभी के पास एक से अधिक मकान पाये गये। विधायक संजय ने कहा है कि वर्तमान मंे आशाराम वर्मा उप जिलाधिकारी बस्ती सदर पद पर नियुक्त हैं और इनके संरक्षण में खुले आम भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इससे जिला प्रशासन के साथ ही सरकार की भी छवि धूमिल हो रही है। शिकायतों के बावजूद आशाराम वर्मा पद पर बने हुये हैं। विधायक संजय ने मांग किया है कि उनके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाय।
यह जानकारी विधायक संजय के मीडिया प्रभारी अमर सोनी ने दी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.