Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
11 दिसम्बर को आयोजित होगा राष्ट्रीय लोक अदालत पूर्वांचल विकास बोर्ड के सलाहकार साकेत मिश्रा ने गिनाई भाजपा सरकार की उपलब्धियां पुलिस अधीक्षक ने किया यातायात माह नवम्बर-2021 का समापन अपर पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई सेवानिवृत्त कर्मचारियों की विदाई भारतीय एकता सदभावना मिशन के राष्ट्रीय महासचिव बने नोमान डीएम ने किया 2 किसान सेवा सहकारी समिति का औचक निरीक्षण कप्तानगंज की समिति पर बन्द मिला ताला छात्र संघ चुनाव में एनएसयूआई ने अंकुर पाण्डेय को घोषित किया अपना उम्मीदवार शिक्षकों ने बैठक में बनाया राष्ट्रीय आन्दोलन में हिस्सेदारी की रणनीति टीईटी परीक्षा के साल्वर गैंग के 5 गुर्गों को पुलिस ने किया गिरफ्तार ई0वी0एम0 एवं वी0वी0 पैट जागरूकता अभियान के तहत डीएम ने किया एल0ई0डी0 वैन को हरी झ्ांडी दिखाकर रवाना

कैली अस्पताल में बनाया जाएगा कोविड-19 का एल-1 हॉस्पिटल

बस्ती।  वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज से संबद्ध ओपेक कैली अस्पताल के 5 मंजिला नए भवन में कोविड-19 का एल-1 हॉस्पिटल बनाया जाएगा। जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने आज इसका निरीक्षण करके 15 मई तक कार्य पूरा करने के लिए कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम को निर्देशित किया है। उन्होंने 100 बेड पर ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए पाइप लाइन लगाने तथा दोनों लिफ्ट चालू करने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि पूरे भवन में आग बुझाने की व्यवस्था पूरी कराएं।
उल्लेखनीय है कि लगभग 200 करोड़ की लागत से निर्माण हो रहे इस पांच मंजिले भवन में लगभग 250 बेड का अस्पताल संचालित होगा। इसमें  कुल 9 ऑपरेशन थिएटर बनेंगे। पांचवी मंजिल पर 80 बेड का वार्ड होगा जिसमें एक साथ 80 मरीजों को भर्ती करके उनका इलाज किया जा सकेगा।
सीएमएस डॉ0 जीएम शुक्ला ने बताया कि इस अस्पताल के लिए आवश्यक सामग्री के लिए शासन को डिमांड भेज दी गई है। अनुमत प्राप्त होते ही निर्धारित कंपनी से सामान की आपूर्ति हो जाएगी। इसके लिए जिलाधिकारी ने फाइल तलब करते हुए विभाग के प्रमुख सचिव से शीघ्र सामग्री की अनुमति देने के लिए अर्ध शासकीय पत्र भिजवाने तथा फोन पर भी अनुरोध करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कार्यदायी संस्था को निर्देश दिया कि जनरेटर, अग्निशमन, वेंटिलेटर का काम 15 मई तक पूरा कराएं। इसके साथ ही उन्होंने ऑक्सीजन उपलब्ध कराने वाली कंपनी के अधिकारियों को भी निर्देशित किया है कि साथ ही साथ ऑक्सीजन हेतु पाइप लाइन बिछाने का कार्य प्रारंभ करें ताकि समय से उसको भी पूरा किया जा सके।
निरीक्षण के दौरान प्राचार्य डॉ0 नवनीत कुमार, सीएमएस डॉ0 जीएम शुक्ला, अर्थ एवं संख्या अधिकारी टीपी गुप्ता, राजकीय निर्माण निगम के अभियंता तथा ऑक्सीजन पाइप लाइन का कार्य करने वाली संस्था के अधिकारी भी मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.