Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
94.6 प्रतिशत अंक अर्जित पर ऐश्वर्या माथुर ने बढाया जनपद का मान शिक्षकों ने खण्ड शिक्षा अधिकारी इन्द्रजीत को दिया भावभीनी विदाई हस्तशिल्प विकास योजना की दिया जानकारी, हस्तशिल्पियों से बनाया संवाद सपा की बैठक में बूथ स्तर पर मजबूती का निर्णय कांग्रेस ने मनाया दलित सम्मान दिवस, निकाली पद यात्रा लगाया कोविड का टीका,गांव-गांव पहुंची टीम इंडियन पब्लिक स्कूल के सभी छात्र उत्तीर्ण, 33 प्रतिशत बच्चों को मिला 90 प्रतिशत अंक जिले में 2582 दिव्यांगों को वितरण किया जायेगा उपकरण 5 अगस्त को जिले के समस्त कोटे की दुकानों पर होगा अन्न महोत्सव का आयोजन लीजेंड दादा साहेब फालके अवार्ड से सम्मानित की गई मशहूर हस्तियां

जनपद में ऑक्सीजन, रेमडेसिविर एवं अन्य जीवन रक्षक दवाओं की कोई कमी नहीं- डीएम

बस्ती। जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों के साथ नियमित संवाद करने के लिए एकीकृत कोविड कमांड एवं कंट्रोल सेंटर के अधिकारियों को निर्देशित किया है। कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे सभी व्यक्तियों को 07 दिन की दवा वाली मेडिकल किट अवश्य उपलब्ध कराई जाए। प्रत्येक दिन कमांड सेंटर से फोन करके ऐसे व्यक्तियों का कुशल क्षेम लेते हुए उनकी वास्तविक स्थिति की जानकारी भी ली जाए तथा उनके द्वारा बताई गई समस्या का तत्काल निदान भी किया जाए।
उन्होंने कहा कि जनपद में ऑक्सीजन, रेमडेसिविर एवं अन्य जीवन रक्षक दवाओं की कोई कमी नहीं है। इसकी कालाबाजारी पर रोक लगाते हुए वास्तविक मरीजों को समय से उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने ऑक्सीजन आपूर्ति एवं इसकी कालाबाजारी पर अंकुश लगाने के लिए जिला प्रशिक्षण अधिकारी डॉ0 विवेक मोबाइल नंबर  8765957373 को नोडल नामित किया है, जो सभी अस्पताल के प्रबंधकों, अधीक्षकों एवं ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ताओं से समन्वय स्थापित करते हुए इसकी समुचित आपूर्ति सुनिश्चित कराएंगे।
जिलाधिकारी ने कोविड-19 महामारी के कारण जनपद में सरकारी एवं गैर सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन एवं दवा की बढ़ती मांग को देखकर उप जिला मजिस्ट्रेट सदर की अध्यक्षता में समिति का गठन किया है, जो ऑक्सीजन एवं कोविड-19 संबंधी दवाओं के कालाबाजारी पर सतर्क निगाह रखते हुए कालाबाजारी पर अंकुश लगाएगी तथा सतत् आपूर्ति सुनिश्चित करेगी। जिलाधिकारी ने इस समिति में पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर तथा अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 सीके वर्मा को सदस्य नामित किया है।
जिलाधिकारी ने बैठक में सभी अधिकारियों को मास्क लगाने तथा लोगों को भी मास्क लगाने के लिए प्रेरित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि विशेषज्ञों का ऐसा मानना है कि कोरोना वायरस के विषाणु हवा में देर तक रहते हैं। यदि कोई संक्रमित व्यक्ति छीकता या खांसता है तो विषाणु हवा में बने रहते हैं और उसके संपर्क में आने वाला व्यक्ति भी संक्रमित हो जाता है लेकिन यदि वह सही ढंग से मास्क लगाया है तो वह इससे बच सकता है। उन्होंने मास्क लगाने के लिए जन जागरूकता अभियान संचालित करने का भी निर्देश दिया है।
उन्होंने कोविड-19 के मरीजों के आवागमन के लिए एंबुलेंस के रिस्पांस टाइम को कम करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि स्वच्छता, सेनिटाइजेशन तथा फागिंग अभियान नियमित रूप से संचालित किया जाए। शासन के निर्देशानुसार शनिवार और रविवार को अनिवार्य रूप से स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन अभियान चला करके शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में कराया जाएगा।
उन्होंने निर्देश दिया है कि कन्टेनमेन्ट जोन और क्वॉरेंटाइन सेंटर के प्रावधानों को सख्ती से लागू किया जाए। प्रत्येक गांव एवं मोहल्लों में गठित निगरानी समिति सक्रियता से कार्य करें। ब्लॉक एवं जिले के अधिकारी इन समितियों से निरंतर संवाद बनाकर उनका फीडबैक प्राप्त करते रहें। विशेष रुप से प्रवासी लोगों के बारे में समस्त जानकारी एकत्र की जाए ताकि कोरोना के फैलाव को रोका जा सके। उन्होंने गेहूं खरीद के दौरान मास्क लगाने, 2 गज की दूरी बनाए रखने तथा वहां पर हाथ धोने एवं सेनिटाइजेशन की व्यवस्था रखने का निर्देश दिया है।
उन्होंने कहा है कि किसी भी स्थान पर 05 से अधिक लोग एकत्र न हो। कोई भी आयोजन, समारोह, कार्यक्रम बिना अनुमति के आयोजित न किया जाए। मंदिरों में भी एक बार में 05 से अधिक लोग दर्शन के लिए न जाएं। रोडवेज की बसों में सीट का 50 प्रतिशत यात्री बैठे तथा बसों के नियमित सेनिटाइजेशन की व्यवस्था रखी जाए।
बैठक में सीआरओ नीता यादव, सीएमओ डॉ0 अनूप कुमार, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नंदकिशोर कलाल, परियोजना निदेशक कमलेश सोनी, उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा, आनंद श्रीनेत, डॉ0 सीके वर्मा, डॉ0 विवेक, उमेश, आलोक राय एवं विभागीय अधिकारी गण उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.