Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
11 दिसम्बर को आयोजित होगा राष्ट्रीय लोक अदालत पूर्वांचल विकास बोर्ड के सलाहकार साकेत मिश्रा ने गिनाई भाजपा सरकार की उपलब्धियां पुलिस अधीक्षक ने किया यातायात माह नवम्बर-2021 का समापन अपर पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई सेवानिवृत्त कर्मचारियों की विदाई भारतीय एकता सदभावना मिशन के राष्ट्रीय महासचिव बने नोमान डीएम ने किया 2 किसान सेवा सहकारी समिति का औचक निरीक्षण कप्तानगंज की समिति पर बन्द मिला ताला छात्र संघ चुनाव में एनएसयूआई ने अंकुर पाण्डेय को घोषित किया अपना उम्मीदवार शिक्षकों ने बैठक में बनाया राष्ट्रीय आन्दोलन में हिस्सेदारी की रणनीति टीईटी परीक्षा के साल्वर गैंग के 5 गुर्गों को पुलिस ने किया गिरफ्तार ई0वी0एम0 एवं वी0वी0 पैट जागरूकता अभियान के तहत डीएम ने किया एल0ई0डी0 वैन को हरी झ्ांडी दिखाकर रवाना

बेटे की कोरोना से मौत, सदमे में मां ने भी दम तोड़ा

बस्ती। कुदरहा क्षेत्र के ग्राम परसांव में बृहस्पतिवार की सुबह पत्रकार अखिलेश का करोना संक्रमण से मौत की खबर आई तो पूरे गांव में कोहराम मच गया। बेटे की मौत का सदमा माता पार्वती बर्दाश्त नहीं कर सकीं और शुक्रवार को उन्होंने भी दम तोड़ दिया। गांव में मां-बेटे की मौत ने ग्रामीणों को झकझोर कर रख दिया है। शुक्रवार को मां का भी अंतिम संस्कार कर दिया गया।
परसांव गांव निवासी अखिलेश कृष्ण मोहन लखनऊ में एक पत्रिका में बतौर पत्रकार काम करते थे। अखिलेश लखनऊ में ही परिवार के साथ रहते थे। परिजनों के मुताबिक, 17 अप्रैल को अचानक अखिलेश को तेज बुखार हुआ। उन्होंने तत्काल कोरोना की जांच कराई तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उसके बाद वह एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हो गए।
इसके बावजूद जब उनकी हालत बिगड़ने लगी तो राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त सेवा निवृत्त शिक्षक पिता राम गुलाम के आग्रह पर अखिलेश को पीजीआई में शिफ्ट कर दिया गया। वहां भी इलाज शुरू हुआ। परिवार को अस्पताल प्रशासन दिलासा देता रहा, मगर 13 मई को अखिलेश ने अंतिम सांस ली। भोर में हुई मौत के बाद कोरोना प्रोटोकाल के तहत शव परिवार के लोग सीधे लेकर टांडा स्थित सरयू तट पर पहुंचे, जहां अंतिम संस्कार किया गया। बेटे के खोने की खबर जैसे ही मां पार्वती तक पहुंची, वह पछाड़ खाकर गिर गईं। बेहोश जानकर ग्रामीण और परिवार के लोग उन्हें लेकर सीएचसी बनहरा पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने पार्वती को मृत घोषित कर दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.