Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
जयंती पर याद किये गये किशोर कुमार, कलाकारों ने गीतों से बांधा समा छह अस्पतालों को मिली कायाकल्प अवार्ड की सौगात जनेश्वर मिश्र के जन्म दिन पर समाजवादियों ने निकाली साईकिल यात्रा दुर्भावना से ग्रस्त होकर भाजपा ने रोकी थी केजरीवाल सरकार की डोर डिलिवरी योजना 7 अगस्त को वितरित किया जायेगा दिव्यांगजनों को सहायता उपकरण जिले के 01 लाख 33 हजार व्यक्तियों को मिला अन्न योजना का लाभ कांग्रेस पिछड़ा वर्ग ने पद यात्रा निकालकर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन पंचायत अध्यक्ष संजय ने पात्रों में किया अनाज का वितरण साईकिल यात्रा निकालकर समाजवादियों ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना अन्न महोत्सव मंें विधायक संजय ने गिनाई उपलब्धियां

दूध पिलाने वाली माताएं भी लगवा सकेंगी कोविड का टीका

– नेशनल एक्सपर्ट ग्रूप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 ने दी सलाह
– टीकाकरण के 14 दिन बाद कर सकते हैं रक्तदान

बस्ती। दूध पिलाने वाली माताएं भी कोविड का टीका लगवा सकेंगी। नेशनल एक्सपर्ट ग्रूप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 ने टीकाकरण के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। अभी तक अन्य लोगों के साथ दूध पिलाने वाली माताओं को भी टीका नहीं लगाया जा रहा था। एक्सपर्ट ग्रुप की सिफारिश के अनुसार कोविड मरीज को ठीक हो जाने के तीन माह बाद ही कोविड का टीका लगाया जाएगा।

अगर उसने पहला डोज लगवा लिया है तो उसे दूसरा डोज तीन महीने बाद लगेगा। गंभीर रूप से बीमार ऐसे लोग जिन्हें अस्पताल या आईसीयू की जरूरत है, ऐसे लोगों को स्वस्थ होने के चार से आठ सप्ताह बाद टीका लगवाने की सलाह दी गई है। टीकाकरण के लिए रणनीति तैयार करने में यह एक्पर्ट ग्रूप अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। कोविड आपदा में लगातार बदलते हालात तथा वैश्विक स्तर पर टीकाकरण से जुड़े वैज्ञानिक साक्ष्यों तथा अनुभवों के आधार पर नेशनल एक्सपर्ट ग्रूप द्वारा एडवॉयजरी जारी की जाती है। इस पर राज्य सरकारों द्वारा अमल कराया जाता है।

टीका लगवाने के 14 दिन बाद कर सकते हैं रक्तदान

अगर आप ने कोविड का टीका लगवाया है तो टीका लगवाने के 14 दिन बाद रक्तदान कर सकते हैं। इसी के साथ अगर कोई भी कोविड मरीज निगेटिव होने के 14 दिन बाद रक्तदान कर सकता है। उसकी आरटीपीसीआर रिपोर्ट निगेटिव होनी चाहिए। कोविड काल में कोई भी स्वस्थ व्यक्ति बिना झिझक के रक्तदान कर सकता है। आपदा में आमतौर से रक्तदान कम हो जाता है, और ब्लड बैंक में रक्त की कमी हो जाती है। इसका कारण लोगों के बीच फैली भ्रांतिया मुख्य वजह होती है। एक्सपर्ट ग्रुप द्वारा इस संबंध में सलाह देकर लोगों की भ्रांतियां दूर करने का प्रयास किया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.