Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
जयंती पर याद किये गये किशोर कुमार, कलाकारों ने गीतों से बांधा समा छह अस्पतालों को मिली कायाकल्प अवार्ड की सौगात जनेश्वर मिश्र के जन्म दिन पर समाजवादियों ने निकाली साईकिल यात्रा दुर्भावना से ग्रस्त होकर भाजपा ने रोकी थी केजरीवाल सरकार की डोर डिलिवरी योजना 7 अगस्त को वितरित किया जायेगा दिव्यांगजनों को सहायता उपकरण जिले के 01 लाख 33 हजार व्यक्तियों को मिला अन्न योजना का लाभ कांग्रेस पिछड़ा वर्ग ने पद यात्रा निकालकर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन पंचायत अध्यक्ष संजय ने पात्रों में किया अनाज का वितरण साईकिल यात्रा निकालकर समाजवादियों ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना अन्न महोत्सव मंें विधायक संजय ने गिनाई उपलब्धियां

सामाजिक कार्यकर्ता गौहर अली ने किया जल प्रदूषण रोकने की पहल

ग्राम पंचायतों को तालाबों में कछुआ , मगरमच्छ, घड़ियाल पालने हेतु अनुमति देने की मांग

बस्ती। सामाजिक कार्यकर्ता गौहर अली ने मुख्यमंत्री, पंचायती राज मंत्री को रजिस्टर्ड पत्र देकर प्रदूषण नियंत्रण हेतु प्रदेश की बड़े ग्राम सभा के बड़े तालाबों में कछुआ ,मगरमच्छ, घड़ियाल के बच्चों को पालन हेतु अनुमति देने का आग्रह किया है।
भेजे पत्र में गौहर अली ने कहा है कि कोरोना संकट काल में जिस तरह इंसानी लाशे नदियों में जलकुंभी की तरह तैर रहे हैं, लोग अपने संस्कार, कर्तव्य को भूलकर इस तरह नदियों में प्रदूषण फैलाने के लिए मजबूर हो रहे हैं। ऐसी स्थिति में यदि प्रदेश के जिन ग्राम सभाओं में बहुत बड़े तालाब हैं वहां कछुआ मगरमच्छ घड़ियाल के बच्चों को इनके हैचरी फार्म से मंगा कर तालाबों में पाला जाए और जब वे कुछ बड़े हो जाएं तो इन्हें निकट की नदियों में छोड़ दिया जाए तो जल प्रदूषण की समस्या दूर हो सकती है। इनके शरीर में माइक्रो कैमरा लगाया जाए और इनकी गतिविधियों पर पर ध्यान रखा जाए तो ये कुदरती जलीय सफाई कर्मी साबित होंगे।
सामाजिक कार्यकर्ता गौहर अली ने पत्र में कहा है कि ग्राम पंचायतों से विकास कार्यो हेतु प्रस्ताव मांगा जाय जिससे आवश्यतानुसार ने पर्यावरण रक्षा, प्रदूषण नियंत्रण, जल संरक्षण और तालाबों के विकास में अपना योगदान दे सकंे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.