Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
जयंती पर याद किये गये किशोर कुमार, कलाकारों ने गीतों से बांधा समा छह अस्पतालों को मिली कायाकल्प अवार्ड की सौगात जनेश्वर मिश्र के जन्म दिन पर समाजवादियों ने निकाली साईकिल यात्रा दुर्भावना से ग्रस्त होकर भाजपा ने रोकी थी केजरीवाल सरकार की डोर डिलिवरी योजना 7 अगस्त को वितरित किया जायेगा दिव्यांगजनों को सहायता उपकरण जिले के 01 लाख 33 हजार व्यक्तियों को मिला अन्न योजना का लाभ कांग्रेस पिछड़ा वर्ग ने पद यात्रा निकालकर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन पंचायत अध्यक्ष संजय ने पात्रों में किया अनाज का वितरण साईकिल यात्रा निकालकर समाजवादियों ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना अन्न महोत्सव मंें विधायक संजय ने गिनाई उपलब्धियां

प्राथमिक शिक्षक संघ ने सौंपा ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग

संघ उपाध्यक्ष को दिये नोटिस को वापस लेने की मांग

बस्ती। बुधवार को उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष उदयशंकर शुक्ल के नेतृत्व में शिक्षकों के एक प्रतिनिधि मण्डल ने जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी के माध्यम से ं 3 सूत्रीय ज्ञापन मुख्यमंत्री, राज्य निर्वाचन आयुक्त, अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा, महानिदेशक ‘स्कूल शिक्षा’ शिक्षा निदेशक एवं 11 सूत्रीय ज्ञापन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, को भेजा। भेजे दो ज्ञापनों में मांग किया गया है कि त्रिस्तरीय सामान्य पंचायत निर्वाचन 2021 के प्रशिक्षण, मतदान, मतगणना केन्द्र पर डियूटी करने वाले तथा आरक्षित रखे गये शिक्षकों, शिक्षा मित्रों, अनुदेशक, रसोईया एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का संक्रमित होकर जांच अथवा बिना जांच के कोरोना से मृत्यु होने की दशा में उन कर्मियों के परिजनों को एक करोड़ रूपये की अनुकम्पा राशि तथा नियमों में शिथिलता देते हुये मृतक आश्रित पद पर शिक्षक पद पर नियुक्ति करने एवं परिवार को पुरानी पेंशन दिये जाने आदि की मांग शामिल है। ज्ञापन में बस्ती जनपद के 22 अध्यापकों, शिक्षा मित्रों की सूची संलग्न किया गया है। दूसरे ज्ञापन में 69000 भर्ती के अन्र्तगत नियुक्त शिक्षकों को आन लाइन सत्यापन या नोटरी शपथ पत्र के आधार पर वेतन भुगतान कराये जाने, विभागीय कमियों के कारण पैन कार्ड मिस मैच मामलों में निस्तारण कर वेतन भुगतान किया जाय।
मांग किया गया है कि मृत शिक्षक, शिक्षा मित्र, अनुदेशक, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के परिजनों को एक करोड़ रूपये की अनुकम्पा राशि तथा नियमों में शिथिलता देते हुये मृतक आश्रित पद पर शिक्षक एवं लिपिक पद पर नियुक्ति करने एवं परिवार को पुरानी पेंशन लाभ दिया जाय।
जिलाधिकारी एवं बीएसए को भेजे 11 सूत्रीय ज्ञापन में नव नियुक्त शिक्षकों सहित सभी का वेतन 1 जून को भुगतान किये जाने, संघ के जिला उपाध्यक्ष एवं गौर ब्लाक अध्यक्ष राजकुमार सिंह को दिये गये नोटिस को वापस लिये जाने, शिक्षकों का व्यक्तिगत बकाया भुगतान कराये जाने, खाद्य सुरक्षा भत्ता कीे फीडिग न होने के कारण अध्यापकों का रोका गया भुगतान किये जाने, पारस्परिक स्थानान्तरण वाले शिक्षकांे का बकाया सहित वेतन भुगतान करने, निलम्बित शिक्षकों को बहाल किये जाने, विकास भवन कोविड कन्ट्रोल रूम में बीमार एवं कोरोना संक्रमित डियूटी पर न उपस्थित होने वाले शिक्षकों जिनका वेतन रोका गया है उनका वेतन भुगतान कराये जाने, सेवा निवृत्त शिक्षकों का जीपीएफ एवं पेशन भुगतान कराये जाने आदि की मांग शामिल है। संघ पदाधिकरियोें ने चेतावनी दिया है कि यदि मामलों का शीघ्र निस्तारण न हुआ और नोटिस वापस न लिया गया तो संगठन आन्दोलन को बाध्य होगा।
ज्ञापन सौंपने वालों में राघवेन्द्र सिंह, अभय सिंह यादव, शैल शुक्ल, विजय प्रकाश चैधरी, रक्षाराम वर्मा, रामभरत वर्मा, जगदम्बा पाण्डेय, बब्बन पाण्डेय, रीता शुक्ला, सन्तोष शुक्ल, अभिषेक उपाध्याय आदि शामिल रहे

Leave A Reply

Your email address will not be published.