Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
रेलवे से रिटायर्ड इंजीनियर को दबंग ठेकेदार ने अपने दो साथियों के साथ रात भर बंधक बनाकर पीटा राखी बंधवाने आए एक युवक की दो लोगों ने ब्लेड से रेत दिया गला, आरोपियों के तलाश मे पुलिस राज्य कर्मचारियों ने निकाली तिरंगा यात्राः डीएम ने बढाया हौसला एपीएन के छात्रों ने निकाली तिरंगा यात्रा पोषण व पुनर्वास केन्‍द्र में भर्ती बच्‍चों ने एक दूसरे को बांधी राखी गर्भावस्था में महिलाएं हो सकती हैं वैनिशिंग ट्विन सिंड्रोम की शिकार नगर पंचायतों में जलकर प्राप्त करने के लिए डीएम ने दिए निर्देश बेगम खैर गर्ल्स इण्टर कालेज की छात्राओं ने निकाली तिरंगा यात्रा 14 अगस्त को आयोजित हो रहे तिरगां यात्रा को लेकर तैयारियों पर चर्चा आज मेट्रो ट्रेन मॉडल का वर्चुअल अनावरण करेंगे मुख्यमंत्री योगी

पैरोल पर रिहा सजायाफ्ता कैदी गांजा सहित गिरफ्तार

गिरफ्तार अभियुक्त पर हर्रैया थाने में लूट समेत दर्ज हैं कुल 11 आपराधिक मुकदमे

संवाददाता,बस्ती। कोविड-19 की पहली लहर में पैरोल पर रिहा किया गया सिद्धदोष बंदी मंगलवार को गांजा के साथ गिरफ्तार किया गया। पैरोल की अवधि पूरी होने के बावजूद वह जेल में नहीं लौटा था। फरार विनोद वर्मा को हर्रैया पुलिस ने बेलाड़े मोड़ के पास से पकड़ा। पुलिस ने उसके कब्जे से एक किलो तीन सौ ग्राम गांजा बरामद किया गया।
थानाध्यक्ष विकास यादव ने बताया कि उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। गिरफ्तारी की जानकारी जेल अधीक्षक संतलाल यादव को दे दी गई है। हर्रैया थाने के बड़हरकला निवासी विनोद वर्मा को लूट के आरोप में न्यायालय से सात साल की सजा हो चुकी है। जिला कारागार में वह अपनी सजा काट रहा था। मगर कोविड-19 का प्रकोप बढ़ने पर कुछ बंदियों के साथ उसे भी पैरोल पर जिला कारागार से छोड़ा गया था। जेल अधीक्षक संतलाल यादव ने बताया कि अवधि पूरी होने के बाद भी वह कारागार नहीं पहुंचा तो इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। इसके बाद से ही हर्रैया पुलिस विनोद की तलाश में जुटी थी।
मंगलवार को थाना प्रभारी विकास यादव और उनकी टीम ने उसे बेलाड़े शुक्ल मोड़ से गांजा के साथ गिरफ्तार कर लिया। जेल प्रशासन को सूचित करने के साथ ही उसे कोर्ट रवाना कर दिया गया है। थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपित विनोद पर हर्रैया में लूट समेत कुल 11 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।