Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
समाजवादी पार्टी सांस्कृतिक प्रकोष्ठ पदाधिकारियों की घोषणा रोटरी ने ग्राम प्रधान को भेंट किया कोरोना से बचाव का संसाधान राज्य स्तरीय फार्म एन फ़ूड अवार्ड से नवाजे गए किसान संघर्ष और साधना की मिसाल है सप्रे जी का जीवन : हृदय नारायण दीक्षित फोकस्ड सैम्पलिंग में नहीं मिला एक भी कोरोना मरीज डीएम, एसपी ने किया जिला कारागार का किया गया आकस्मिक निरीक्षण यशकान्त सिंह अध्यक्ष, अनिल दूबे प्रमुख संघ के महामंत्री बन कोविड-19 से संबंधित आवश्यक मेडिकल सामग्री तैयार करने का उधम शुरू करें उधमी: डीएम कोविड-19 गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस प्राकृतिक तरीको से घटाए यूरिक एसिड का लेवल- डा.वी.के.वर्मा

कोविड टीकाकरण में सहयोग करेंगे कोटेदार

– यूनिसेफ के सहयोग से कोटेदारों को दिया गया वर्चुअल प्रशिक्षण

– ज्वाइंट मजिस्ट्रेट और सीएमओ ने सहयोग की अपील की

– निगरानी समिति में सदस्य की भूमिका में भी हैं कोटेदार

– टीकाकरण के लिए पंजीकरण करवाने के तरीके भी बताए गये

संवाददाता,गोरखपुर। कोविड टीकाकरण कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग जिले के कोटेदारों की भी मदद लेगा । इस संबंध में स्वयंसेवी संस्था यूनिसेफ के सहयोग से कोटेदारों को शुक्रवार को वर्चुअल प्रशिक्षण भी दिया गया । इस प्रशिक्षण के दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधाकर पांडेय, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कुलदीप मीणा और एसडीएम रजत वर्मा ने कोटेदारों से अपील की कि वह टीकाकरण कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सक्रिय योगदान दें । लोगों के मन में अगर टीकाकरण के प्रति कोई भ्रांति है तो उसे भी दूर करें । प्रशिक्षण के दौरान स्वयंसेवी संस्था यूएनडीपी के प्रतिनिधि पवन कुमार सिंह ने कोटेदारों को टीकाकरण के लिए पंजीकरण करने का तरीका बताया । कोटेदारों को इस अभियान से इसलिए भी जोड़ा जा रहा है क्योंकि वह निगरानी समिति के सदस्य हैं ।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधाकर पांडेय ने बताया कि जिले में करीब 5.50 लाख लोग कोविड टीकाकरण करवा चुके हैं । कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर कोविड प्रोटोकॉल के पालन के साथ-साथ टीकाकरण ही एक सशक्त विकल्प है । अब 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी लोगों का टीकाकरण होने लगा है । टीका पूरी तरह से निःशुल्क है और इसकी सुविधा कोविन एप व आरोग्य सेतु के जरिये ऑनलाइन पंजीकरण करवाने पर मिल रही है । कोटेदारों से कहा गया है कि वह टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक करने में अंग्रिम पंक्ति कार्यकर्ता आशा और आंगनबाड़ी से सूची प्राप्त कर मदद करें । जो लोग कोटे की दुकान पर आ रहे हैं उन्हें भी टीकाकरण के लिए प्रेरित करें और आवश्यकता पड़ने पर पंजीकरण में मदद करें ।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. नीरज कुमार पांडेय ने बताया कि यूनिसेफ के क्षेत्रीय समन्वयक मनोज कुमार श्रीवास्तव, डीएमसी नीलम यादव और गुलजार ने कोटेदारों को कोविड की रोकथाम में टीकाकरण की भूमिका के बारे में विस्तार से जानकारी दी है । जिला प्रशासन की तरफ से कोटेदारों को इस संबंध में दिशा-निर्देश दिये गये हैं कि वह शत-प्रतिशत टीकाकरण करवाने में योगदान देंगे । साथ ही अपना भी टीकाकरण अवश्य करवा लें ।
जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी के.एन. बरनवाल ने वर्चुअल प्रशिक्षण में कहा कि लोगों तक यह भी संदेश पहुंचाना है कि कोविड का टीका लगवाने के बाद भी दो गज की दूरी, मॉस्क के इस्तेमाल और हाथों की स्वच्छता के नियम का कड़ाई से पालन करना है । कम से कम बाहर निकलना है और कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करना है । इन नियमों के पालन के साथ टीकाकरण ही कोविड से बचने का सबसे अच्छा उपाय है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.