Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
‘महीने में आठ बार आयरन और छह महीने पर विटामिन ए सीरप का सेवन आवश्यक’’ बच्चों को विटामिन ए पिलाकर बाल स्वास्थ्य पोषण माह का शुभारंभ पेगासस साफ्टवेयर का इस्तेमाल भारतीय संस्थाओं और पत्रकारों पर करना देशद्रोह-महेन्द्र श्रीवासतव लक्ष्मण पाण्डेय हत्याकाण्ड के दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग, बबिता शुक्ल ने सौंपा ज्ञापन डॉ. अजीत प्रताप शिक्षक प्रकोष्ठ, गिरीश पाण्डेय को भाजपा पंचायत प्रकोष्ठ संयोजक बनाये जाने पर प्रसन्न... पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को विभिन्न पदों की सौंपी गयी जिम्मेदारी सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष पद का प्रेरक मिश्रा ने संभाला कार्यभार ब्लाक प्रमुखों को प्रशासनिक एंव वित्तीय अधिकार दिलाने के लिए किया जायेंगा प्रयासः राजेन्द्र प्रताप स... प्रभारी मंत्री ने कप्तानगंज ब्लाक में निरीक्षण कर जाना योजनाओं का हाल 25,000 के इनामिया वांछित अभियुक्त पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तारः-

सफाई कर्मचारी संघ ने डीपीआरओ पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

उच्चाधिकारियों को पत्र देकर लगाया न्याय की गुहार

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत राज सफाई कर्मचारी संघ जिलाध्यक्ष अतुल कुमार पाण्डेय ने जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक और कोतवाली थाना प्रभारी को रजिस्टर्ड पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगाया है। भेेजे पत्र में अतुल पाण्डेय ने कहा है कि 16 जून बुधवार को जिला पंचायत राज अधिकारी विनय कुमार सिंह ने मृतक आश्रितों की सेवा पुस्तिका के सम्बन्ध में जानकारी देने दिन में लगभग 12.30 बजे पहुंचा तो उन्हें देखते ही जिला पंचायत राज अधिकारी ने अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुये गालियां दी, धमकी दिया कि बर्खास्त कर तुम्हारी जिन्दगी बरबाद कर दूंगा। शोर होने पर अनेक कर्मचारियों ने इसे सुना और देखा।
पत्र में अतुल कुमार पाण्डेय ने कहा है कि जिला पंचायत राज अधिकारी विनय कुमार सिंह उनसे व्यक्तिगत द्वेष रखते हैं। उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत राज सफाई कर्मचारी संघ का जिलाध्यक्ष होने के कारण सफाई कर्मियों की समस्याओं को लेकर प्रायः जिला पंचायत राज अधिकारी विनय कुमार सिंह के पास निराकरण हेतु जाना पड़ता है। इसके कारण जिला पंचायत राज अधिकारी व्यक्तिगत द्वेष रखने लगे। यही नहीं उनका 15 दिन का वेतन रोकने के साथ ही प्रतिकूल प्रविष्टि भी दे दिया गया है। 4 मई को जांच से पता चला कि वे कोरोना पाॅजिटिव है। इलाज के बाद वह जब स्वस्थ होकर कार्यालय आये पता चला कि उनका 15 दिन का मई माह का वेतन भी बिना लिखित सूचना या स्पष्टीकरण मांगे काट लिया गया, उनका उप निदेशक पंचायत के कार्यालय में स्थानान्तरण कर दिया गया। उप निदेशक पंचायत के कार्यालय में स्थान रिक्त न होने के कारण अतुल पाण्डेय को पुनः जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय में स्थापना-4 सफाई कर्मी अधिष्ठान पद पर सम्बद्ध कर दिया गया।
प्रेस को जारी विज्ञप्ति के माध्यम से अतुल पाण्डेय ने कहा है कि जिला पंचायत राज अधिकारी विनय कुमार सिंह उनसे व्यक्तिगत द्वेष रखने लगे हैं और उनके विरूद्ध कोई भी कार्रवाई कर सकते हैं। उन्होने मामले में मुकदमा पंजीकत कर जांच और कार्रवाई की मांग प्रशासन से किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.