Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
जयंती पर याद किये गये किशोर कुमार, कलाकारों ने गीतों से बांधा समा छह अस्पतालों को मिली कायाकल्प अवार्ड की सौगात जनेश्वर मिश्र के जन्म दिन पर समाजवादियों ने निकाली साईकिल यात्रा दुर्भावना से ग्रस्त होकर भाजपा ने रोकी थी केजरीवाल सरकार की डोर डिलिवरी योजना 7 अगस्त को वितरित किया जायेगा दिव्यांगजनों को सहायता उपकरण जिले के 01 लाख 33 हजार व्यक्तियों को मिला अन्न योजना का लाभ कांग्रेस पिछड़ा वर्ग ने पद यात्रा निकालकर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन पंचायत अध्यक्ष संजय ने पात्रों में किया अनाज का वितरण साईकिल यात्रा निकालकर समाजवादियों ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना अन्न महोत्सव मंें विधायक संजय ने गिनाई उपलब्धियां

11 विभाग मिल कर मनाएंगे विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह

प्रदेश में एक जुलाई से 31 जुलाई तक चलेगा अभियान

दिमागी बुखार, मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, टीबी, कोविड पर होगा वार

कबीर बस्ती न्यूज,गोरखपुर।
एक जुलाई से लेकर 31 जुलाई तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह मनाया जाएगा। इस अभियान में 11 विभाग आपस में समन्वय स्थापित कर इस अभियान को सफल बनाएंगे। अभियान के दौरान दिमागी बुखार, मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, टीबी और कोविड जैसे संचारी रोगों पर जनजागरूकता से वार किया जाएगा। इस संबंध में जिला स्तरीय वर्चुअल प्रशिक्षण हो चुका है। शासन से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार ब्लॉक स्तरीय प्रशिक्षण भी करवाया जाएगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधाकर पांडेय ने बताया कि अभियान के दौरान स्वास्थ्य विभाग नोडल विभाग की भूमिका में रहेगा। समूचा अभियान कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए चलाया जाएगा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह के दौरान दिमागी बुखार और अन्य संचारी रोगों की निगरानी की जाएगी। बुखार के रोगियों को चिन्हित कर अस्पताल भिजवाया जाएगा। अंग्रिम पंक्ति कार्यकर्ता आशा, आंगनबाड़ी और एएनएम जिन लक्षणयुक्त मरीजों की सूची देंगी उन सभी मरीजों की जांच कराई जाएगी। संभावित क्षय रोगियों की जांच करवा कर उनका इलाज करवाया जाएगा। बीमार लोगों के लिए निःशुल्क परिवहन की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे। मच्छरों के लार्वा को नष्ट किया जाएगा और फॉगिंग करवाई जाएगी। एलईडी वैन के माध्यम से जनजागरूकता के लिए प्रचार-प्रसार करवाया जाएगा।

डॉ. सुधाकर पांडेय ने बताया कि जिला प्रशासन की देखरेख में स्वास्थ्य विभाग के अलावा  नगर विकास विभाग, पंचायती राज्य विभाग व ग्राम्य विकास विभाग, पशुपालन विभाग, बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग, शिक्षा विभाग, चिकित्सा शिक्षा विभाग, दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग, कृषि एवं सिंचाई विभाग, सूचना विभाग और उद्यान विभाग अभियान में अपनी-अपनी भूमिका से सहयोग करेंगे। नोडल के तौर पर माइक्रोप्लानिंग और रिपोर्टिंग की जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग की होगी।

यह प्रमुख गतिविधियां होंगी

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि शासन से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार नगर विकास विभाग नगरीय क्षेत्र में शुद्ध पेयजल, साफ-सफाई, मच्छरों की रोकथाम, संवेदनशील क्षेत्रों को खुले में शौच से मुक्त कराना और नाला-नालियों की साफ-सफाई, पंचायती राज विभाग व ग्राम्य विकास विभाग जनजागरूकता, शुद्ध पेयजल की व्यवस्था, वेक्टर कंट्रोल और वातावरणीय स्वच्छता के प्रयास, पशुपालन विभाग सुकरबाड़ों को आबादी से दूर करवाने के प्रबंधन, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग कुपोषित बच्चों के चिन्हांकन, उन्हें पुष्टाहार वितरित करना, जनजागरूकता व संवेदीकरण, दिमागी बुखार के दिव्यांग बच्चों को योजनाओं का लाभ दिलवाने, शिक्षा विभाग वाट्स एप ग्रुप के जरिये जनजागरूकता अभियान व संवेदीकरण, चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा बीमारियों की जांच के लिए प्रयोगशाला प्राविधिक प्रशिक्षण, दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग द्वारा दिमागी बुखार के दिव्यांग रोगियों के कल्याण की योजनाओं का लाभ दिलवाने, कृषि एवं सिंचाई विभाग द्वारा मच्छरों के प्रजनन पर रोक लगाने, सूचना विभाग द्वारा प्रचार-प्रसार और उद्यान विभाग द्वारा मच्छर रोधी पौधों के रोपण जैसी गतिविधियां प्रमुख तौर पर संचालित की जानी हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.