Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
समाजवादी पार्टी सांस्कृतिक प्रकोष्ठ पदाधिकारियों की घोषणा रोटरी ने ग्राम प्रधान को भेंट किया कोरोना से बचाव का संसाधान राज्य स्तरीय फार्म एन फ़ूड अवार्ड से नवाजे गए किसान संघर्ष और साधना की मिसाल है सप्रे जी का जीवन : हृदय नारायण दीक्षित फोकस्ड सैम्पलिंग में नहीं मिला एक भी कोरोना मरीज डीएम, एसपी ने किया जिला कारागार का किया गया आकस्मिक निरीक्षण यशकान्त सिंह अध्यक्ष, अनिल दूबे प्रमुख संघ के महामंत्री बन कोविड-19 से संबंधित आवश्यक मेडिकल सामग्री तैयार करने का उधम शुरू करें उधमी: डीएम कोविड-19 गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस प्राकृतिक तरीको से घटाए यूरिक एसिड का लेवल- डा.वी.के.वर्मा

मदरसों के जरिये पहुंचेगा टीकाकरण का संदेश

स्वास्थ्य विभाग, जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग और यूनिसेफ संस्था के सहयोग से हुआ अभिमुखीकरण

कोविड अनुरूप व्यवहार, टीकाकरण के महत्व और पंजीकरण के बारे में वर्चुअल माध्यम से दी गयी जानकारी

सोशल मीडिया की भ्रांतियों पर ध्यान न देने की भी अपील

कबीर बस्ती न्यूज,गोरखपुर । 

जिले के मदरसों के जरिये जन-जन तक टीकाकरण का संदेश पहुंचाया जाएगा । इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग, जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग और यूनिसेफ संस्था के सहयोग से मदरसों के शिक्षकों का सोमवार को वर्चुअल माध्यम से अभिमुखीकरण किया गया । उन्हें कोविड अनुरूप व्यवहार, टीकाकरण के महत्व और टीकाकरण के लिए पंजीकरण करने की विधि के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी। उन्हें बताया गया कि लोगों को समझाएं कि सोशल मीडिया पर चल रही और सुनी-सुनाई भ्रांतियों पर ध्यान नहीं देना है। कार्यक्रम के दौरान मुख्य विकास अधिकारी इंद्रजीत सिंह, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी आशुतोष पांडेय और जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी के.एन. बरनवाल ने टीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिए सक्रिय सहयोग की अपील की। सभी ने एक स्वर से कहा कि कोविड का टीका सुरक्षित है और लोगों को इसका लाभ लेने के लिए आगे आना होगा।

जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी ने बताया कि मदरसा शिक्षक अभिभावकों और बच्चों के जरिये लोगों को टीकाकरण का महत्व बताएंगे। यूनिसेफ की डिस्ट्रिक्ट मोबिलाइजेशन ऑफिसर (डीएमसी) नीलम यादव और गुलजार त्यागी के विशेष सहयोग से अलग-अलग वर्गों को टीकाकरण के संबंध में संवेदीकृत किया जा रहा है। इस क्रम में कोटेदार, पार्षदों और सहज जन सेवा केंद्रों का अभिमुखीकरण पहले ही किया जा चुका है। अभिमुखीकरण कार्यक्रम में स्वयंसेवी संस्था सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफॉर) के स्तर से भी सहयोग प्राप्त हो रहा है। स्वास्थ्य विभाग को विश्वास है कि ऐसे कार्यक्रमों के जरिये 45 से अधिक आयु वर्ग के लोग टीकाकरण के लिए आगे आएंगे। जिन लोगों ने टीके की पहली डोज लगवा ली है, वह भी दूसरी डोज अवश्य लगवाएंगे।

इन बातों का रखना है ध्यान

श्री बरनवाल ने बताया कि टीका लगवाने के बाद भी मॉस्क, दो गज की दूरी और हाथों की स्वच्छता समेत कोविड से जुड़ी प्रत्येक सतर्कता का पालन करना है। गर्भवती, तेज बुखार और गंभीर बीमारियों (ह्रदय रोग, कैंसर आदि) से ग्रसित लोगों को छोड़ कर सभी को टीका लगवाना है। गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोग अपने चिकित्सक के परामर्श पर टीका लगवा सकते हैं। कोविन पोर्टल पर पहले से पंजीकरण करवा कर ही टीका लगवाना है। जिन लोगों के पास स्मार्ट फोन नहीं है, वह नजदीकी सहज जन सेवा केंद्र से निःशुल्क स्लॉट बुक करवा कर टीका लगवा सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.