Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
‘महीने में आठ बार आयरन और छह महीने पर विटामिन ए सीरप का सेवन आवश्यक’’ बच्चों को विटामिन ए पिलाकर बाल स्वास्थ्य पोषण माह का शुभारंभ पेगासस साफ्टवेयर का इस्तेमाल भारतीय संस्थाओं और पत्रकारों पर करना देशद्रोह-महेन्द्र श्रीवासतव लक्ष्मण पाण्डेय हत्याकाण्ड के दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग, बबिता शुक्ल ने सौंपा ज्ञापन डॉ. अजीत प्रताप शिक्षक प्रकोष्ठ, गिरीश पाण्डेय को भाजपा पंचायत प्रकोष्ठ संयोजक बनाये जाने पर प्रसन्न... पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को विभिन्न पदों की सौंपी गयी जिम्मेदारी सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष पद का प्रेरक मिश्रा ने संभाला कार्यभार ब्लाक प्रमुखों को प्रशासनिक एंव वित्तीय अधिकार दिलाने के लिए किया जायेंगा प्रयासः राजेन्द्र प्रताप स... प्रभारी मंत्री ने कप्तानगंज ब्लाक में निरीक्षण कर जाना योजनाओं का हाल 25,000 के इनामिया वांछित अभियुक्त पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तारः-

सफाई कर्मियों ने सौंपा 8 सूत्रीय ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के जिला मंत्री मनसाराम चैधरी ने शुक्रवार को जिला पंचायत राज अधिकारी को 8 सूत्रीय मांग पत्र देकर समस्याओं के निस्तारण का आग्रह किया। मनसाराम ने बताया कि डीपीआरओ ने इस सम्बन्ध में तत्काल बड़ेे ग्राम पंचायत के साफ-सफाई कार्य में लगाये गये सफाई कर्मियों को उनके मूल तैनाती राजस्व ग्राम में कार्य करने का आदेश पत्र जारी कर दिया है।
मांग पत्र में कहा गया है कि सफाई कर्मचारी कोरोना संकट काल में सुरक्षा का पर्याप्त संसाधन न होने के बावजूद अपने दायित्वांें का पालन कर रहे हैं, कोविड संक्रमित स्थानों पर साफ-सफाई का कार्य, निर्वाचन डियूटी में टीम बनाकर साफ सफाई कार्य के बावजूद अपने दायित्वों का पालन कर रहे हैं इसके बावजूद उनका तरह- तरह से उत्पीड़न किया जा रहा है। उनका वेतन रोक देने को कहा जाता है इससे सफाईकर्मी परेशान हैं।
जिला पंचायत राज अधिकारी को दिये मांग पत्र में कहा गया है कि सफाई कर्मियों का वेतन माह के पहली तारीख को उनके खाते में भेजने के साथ ही आदेश के क्रम में अन्य ग्रामों से सम्बद्ध सफाई कर्मियों को उनके तैनाती स्थल पर भेजा जाय। सफाई कर्मचारियों पर ग्रामीणों को कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिये दबाव न बनाया जाय क्योंकि अनेक ग्रामीण वैक्सीन लगवाने का आग्रह करने पर सफाई कर्मियों से अभद्र व्यवहार करते हैं। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा सफाई कर्मियों को किसी भी प्रकार का सहयोग नहीं मिलता है। जो कार्य स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों का है वह सफाई कर्मियांें से न लिया जाय, सफाई कर्मियों को उनकी सुविधा के अनुसार गांवों में तैनात कर महिला व विकलांग सफाई कर्मियों को 5 किलोमीटर की परिधि में तैनात किया जाय और नगर पंचायत में कार्यरत सफाई कर्मियों को ग्राम पंचायत के राजस्व गांवों में भेजा जाय।
मांग पत्र देने वालों में उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के अवधेश कुमार, बुधई प्रसाद, भरतराम, अनिल कुमार, सुरेन्द्र कुमार आदि शामिल रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.