Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
समाजवादी पार्टी सांस्कृतिक प्रकोष्ठ पदाधिकारियों की घोषणा रोटरी ने ग्राम प्रधान को भेंट किया कोरोना से बचाव का संसाधान राज्य स्तरीय फार्म एन फ़ूड अवार्ड से नवाजे गए किसान संघर्ष और साधना की मिसाल है सप्रे जी का जीवन : हृदय नारायण दीक्षित फोकस्ड सैम्पलिंग में नहीं मिला एक भी कोरोना मरीज डीएम, एसपी ने किया जिला कारागार का किया गया आकस्मिक निरीक्षण यशकान्त सिंह अध्यक्ष, अनिल दूबे प्रमुख संघ के महामंत्री बन कोविड-19 से संबंधित आवश्यक मेडिकल सामग्री तैयार करने का उधम शुरू करें उधमी: डीएम कोविड-19 गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस प्राकृतिक तरीको से घटाए यूरिक एसिड का लेवल- डा.वी.के.वर्मा

सड़कों को गड्डा मुक्त बनाने का दावा फेल, चोटहिल हो रहें राहगीर

प्रदेश सरकार के गड्ढा मुक्त अभियान का सच—–
– लगातार हुई बारिश कर रहा है कोढ़ में खाज का काम
– बस्ती और गोंडा दो जिलो को जोड़ने वाली सड़क बड़े बड़े गडढ़े में तब्दील

 कबीर बस्ती न्यूज,बभनान,बस्ती। जब प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार बनी उस समययोगी जी ने पूरे प्रदेश में सड़कों को गड्ढा मुक्त कराने का अभियान चलाया था। कुछ सड़कें तो गड्ढा मुक्त हुए लेकिन अधिकांश सड़कें आज भी अपने दिन बहुरने का इंतजार कर रहे हैं। लगातार हुए हुई बारिश कोढ़ मे खाज का काम कर रही है। इसका सारा खामियाजा निर्दोष राहगीरों को भुगतना पड़ रहा है सरकार का सबका साथ सबका विकास का नारा यहां थोथा साबित हो रहा है।
वर्तमान सरकार के द्वारा निरंतर की जा रही विकास की बातें हैं और दावे यहां सब फेल नजर आ रही है जहां सरकार द्वारा लगातार दावा किया जा रहा है कि हमारी सरकार में सबसे ज्यादा सड़कों का निर्माण करवाया गया है सही मायने में यदि जीता जाता उदाहरण देखना हो तो बस्ती और गोंडा दो मुख्यालयों को छोड़ने वाले इस बभनान कस्बे में आकर देख सकते हैं जहां पर बभनान स्टेशन से मनकापुर गोंडा और दूसरी तरफ बभनान गौरा चैकी होते हुए बस्ती को जोड़ने वाली सड़क का हाल मौके पर इस तरह है कि यदि इस बारिश के समय पर यहां से पैदल भी गुजारना मुश्किल है । सड़कों पर बने गड्ढे और उन में भरे पानी से होकर जाने से लोग कतराते हैं यही नहीं इस कस्बे में दो मिले बभनान शुगर मिल और इसी की दूसरी शाखा डिस्टलरी और 2 डिग्री कॉलेज के साथ कई इंटर कॉलेज भी संचालित है पर यहां सुविधाएं शून्य हैं।
बभनान शुगर मिल की पेराई सत्र मैं मिल को जाने वाली सभी गाड़ियां और दोनों जिले पर जाने वाले लोगों को इसी मार्ग से होकर जाना पड़ता है पेराई सत्र में इस खराब सड़क पर आए दिन कोई न कोई दुर्घटनाएं होती रहती हैं जिसके कारण सड़कों के किनारे दुकानदारों और स्कूल भेजने वाले अभिभावकों में हो रही दुर्घटनाओं से एक डर सा बना रहता है पर इस सबसे बेखबर जिम्मेदारों को यह नहीं दिखाई देता अगर किसी को दिखाई देता है तो वह है बभनान शुगर मिल है जो समय समय पर गड्ढों में ईट पत्थर डलवा कर काम चलाऊ स्थिति में बना देती है। कुछ कुछ ही दिन बाद स्थिति जस की तस हो जाता है।
इस समस्या को लेकर अभी हाल में ही नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान प्रिंस तिवारी के द्वारा ट्विटर के माध्यम से मुख्यमंत्री और डीएम को अवगत कराया गया था जिस पर भी कोई उचित रिस्पांस नहीं मिला। केवल आश्वासन और सड़क पर गड्ढे भरवाने के लिए मिल द्वारा ईट पत्थर गिरवा कर मामले को ढकना शुरू कर दिया गया जबकि यह कोई परमानेंट सलूशन नहीं है। जब तक शासन द्वारा इस पर कोई ठोस कदम नहीं उठाया जाएगा तब तक यहां पर होने वाले हादसे और लोगों को होने वाली परेशानियां कम नहीं होंगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.