Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
94.6 प्रतिशत अंक अर्जित पर ऐश्वर्या माथुर ने बढाया जनपद का मान शिक्षकों ने खण्ड शिक्षा अधिकारी इन्द्रजीत को दिया भावभीनी विदाई हस्तशिल्प विकास योजना की दिया जानकारी, हस्तशिल्पियों से बनाया संवाद सपा की बैठक में बूथ स्तर पर मजबूती का निर्णय कांग्रेस ने मनाया दलित सम्मान दिवस, निकाली पद यात्रा लगाया कोविड का टीका,गांव-गांव पहुंची टीम इंडियन पब्लिक स्कूल के सभी छात्र उत्तीर्ण, 33 प्रतिशत बच्चों को मिला 90 प्रतिशत अंक जिले में 2582 दिव्यांगों को वितरण किया जायेगा उपकरण 5 अगस्त को जिले के समस्त कोटे की दुकानों पर होगा अन्न महोत्सव का आयोजन लीजेंड दादा साहेब फालके अवार्ड से सम्मानित की गई मशहूर हस्तियां

आरोग्य साथी एप बताएगा कहा मिलेगी जांच व इलाज की सुविधा

टीबी मरीजों की सुविधा के लिए केंद्र सरकार ने जारी किया एप
 कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। टीबी मरीजों की सुविधा के लिए केंद्र सरकार ने टीबी आरोग्य साथी एप लांच किया है। इस मोबाइल एप की सहायता से कोई भी नजदीकी जांच केंद्र व इलाज की सुविधा वाले अस्पताल या क्लीनिक के बारे में  जानकारी हासिल कर सकता है। वर्ष 2025 तक देश से टीबी के खात्मे के लिए शुरू किए गए प्रयासों के क्रम में यह एप जारी किया गया है।
प्रभारी जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. एफ हुसैन ने बताया कि केंद्र सरकार ने देश से टीबी की समाप्ति के लिए जो समय सीमा निर्धारित की है, , उसे देखते हुए क्षय रोग विभाग द्वारा कई तरह के कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। इसके तहत लोगों को टीबी के प्रति जागरूक करते हुए उन्हें बीमारी के लक्षण के बारे में बताया  जा रहा है। अगर किसी में लक्षण है तो उसकी जांच कराई जाती है। जांच में पॉजिटिव पाए जाने पर उसका पंजीकरण कर इलाज शुरू कराया जाता है।
अब मोबाइल एप की सहायता से भी लोगों को कई तरह की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। कोई भी अपने प्ले स्टोर की सहायता से टीबी आरोग्य साथी एप डाउनलोड कर सकता है। इस एप के जरिए टीबी से संबंधित कई तरह की आवश्यक  सूचना हासिल की जा सकती है। इस एप के जरिए टीबी के संबंध में आवश्यक जानकारी हासिल की जा सकती है। कहा जांच व इलाज की सुविधा है तथा टीबी के मरीज के न्यूट्रीशन के लिए क्या आवश्यक है, सब जानकारी एप पर मौजूद है। टेलीकंसल्टेशन की भी सुविधा यहां पर उपलब्ध है। एप की सहायता से निःक्षय पोर्टल पर पंजीकरण कराया जा सकता है। इसका लिंक नजदीकी टीबी जांच केंद्र को भेजकर वहां उपलब्ध जांच की सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है।
पंजीकरण के बाद मिलती है इलाज की सुविधा
टीबी की जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने के बाद विभाग द्वारा मरीज का पंजीकरण निःक्षय पोर्टल पर किया जाता है। इस पोर्टल पर पंजीकरण होने के साथ ही मरीज का इलाज शुरू हो जाता है। समय-समय पर इलाज से संबंधित फीडबैक फील्ड स्टॉफ द्वारा लिया जाता है। इलाज के दौरान मरीज को पोषण भत्ता भी दिया जाता है। इलाज के बाद जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी फालोअप जारी रहता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.