Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
‘महीने में आठ बार आयरन और छह महीने पर विटामिन ए सीरप का सेवन आवश्यक’’ बच्चों को विटामिन ए पिलाकर बाल स्वास्थ्य पोषण माह का शुभारंभ पेगासस साफ्टवेयर का इस्तेमाल भारतीय संस्थाओं और पत्रकारों पर करना देशद्रोह-महेन्द्र श्रीवासतव लक्ष्मण पाण्डेय हत्याकाण्ड के दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग, बबिता शुक्ल ने सौंपा ज्ञापन डॉ. अजीत प्रताप शिक्षक प्रकोष्ठ, गिरीश पाण्डेय को भाजपा पंचायत प्रकोष्ठ संयोजक बनाये जाने पर प्रसन्न... पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को विभिन्न पदों की सौंपी गयी जिम्मेदारी सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष पद का प्रेरक मिश्रा ने संभाला कार्यभार ब्लाक प्रमुखों को प्रशासनिक एंव वित्तीय अधिकार दिलाने के लिए किया जायेंगा प्रयासः राजेन्द्र प्रताप स... प्रभारी मंत्री ने कप्तानगंज ब्लाक में निरीक्षण कर जाना योजनाओं का हाल 25,000 के इनामिया वांछित अभियुक्त पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तारः-

सक्षम राष्ट्र निर्माण के लिए मनाया जाएगा विश्व जनसंख्या दिवस

– आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी है इस वर्ष की थीम

– लोगों को परिवार नियोजन के बारे में प्रोत्साहित करने के लिए होंगे विविध आयोजन, किया जाएगा जागरुक 

 कबीर बस्ती न्यूज,संतकबीरनगर

बढ़ती आबादी को देखते हुए हर महीने की 11 जुलाई को मनाए जाने वाले विश्व जनसंख्या दिवस के लिए तैयारियां जोरों पर हैं।  इससे एक पखवाड़ा पहले तथा एक पखवाड़ा बाद तक जनसंख्या स्थिरीकरण के लिए विवध आयोजन किए जाएंगे। कोविड काल में दो चरणों में मनाए जाने वाला विश्व जनसंख्या दिवस इस बार ” आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी ” थीम के साथ मनाया जाएगा।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (परिवार कल्याण) डॉ. मोहन झा ने बताया कि इस बार विश्व जनसंख्या दिवस कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए 11 जुलाई को मनाया जाएगा। विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर कार्यक्रम 27 जून से शुरु होंगे और आगामी 24 जुलाई तक दो चरणों में पूरे किए जाएंगे। इसका पहला चरण 27 जून से शुरू होकर 10 जुलाई तक चलेगा। वहीँ 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस के साथ ही पूरे प्रदेश में विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा की शुरुआत की जाएगी जो 24 जुलाई तक चलेगा। इस दौरान विविध कार्यक्रमों के जरिए लोगों को जनसंख्या स्थिरता के लिए जागरुक किया जाएगा।

दम्पत्ति सम्पर्क पखवाड़ा

27 जून से 10 जुलाई तक मनाए जाने वाले इस पखवाड़े के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए परिवार नियोजन के कार्यक्रमों का मोबिलिटी वैन के साथ ही साथ अन्य प्रचार माध्यमों के जरिए प्रचार किया जाएगा। दो बच्चों में तीन  वर्ष का अन्तराल, परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी, प्रसव के उपरान्त परिवार नियोजन, गर्भपात के उपरान्त परिवार नियोजन, उचित उम्र पर विवाह के साथ ही साथ अन्य सेवाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी। जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा के बारे में ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों व कर्मचारियों का उन्मुखीकरण किया जाएगा। कोविड को देखते हुए आशा कार्यकर्ताओं के द्वारा टेलीकम्यूनिकेशन के जरिए परिवार नियोजन की बास्केट आफ च्वाइस के बारे में लक्षित दम्पत्ति की काउन्सिलिंग की जाएगी।

सेवा प्रदायिगी जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा

शासन से इस संबंध में दिशा-निर्देश मिला है कि 11 से 24  जुलाई तक मनाए जाने वाले सेवा प्रदायिगी जनसंख्या स्थिरता पखवाड़े का उदघाटन जिला स्तर पर किसी जनप्रतिनिधि के माध्यम से शारीरिक दूरी व कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए किया जाय। इस दौरान इसका व्यापक रुप से प्रचार प्रसार किया जाय। चिकित्सा इकाई स्तर पर बास्केट ऑफ च्वाइस के हिसाब से दम्पत्ति की काउन्सिलिंग की जाय। कन्टेनमेण्ट व बफर जोन को छोड़कर समस्त स्थानों पर पम्पलेट के साथ ही साथ परिवार नियोजन के साधनों की उपलब्धता केन्द्रों पर कराई जाय। गर्भनिरोधक गोलियों के वितरण के साथ ही सभी इकाइयों पर पुरुषों व महिलाओं के स्थायी साधनों व्यवस्था कराई जाय।

जिले के लिए 80 तथा ब्लाकों के लिए नौ हजार

इस कार्यक्रम को सम्पन्न कराने के लिए जनपद स्तर पर 80 हजार रुपए का प्रावधान है। इसमें 70 हजार रुपए माइकिंग, दीवार लेखन, पोस्टर व बैनर आदि के माध्यम से प्रचार प्रसार, पांच हजार रुपए फोटोग्राफी व डाक्यूमेण्टेशन तथा पांच  हजार रुपए अन्य विविध व्यय के लिए हैं। वहीं ब्लाक स्तर पर मिलने वाले नौ हजार रुपए में से आठ हजार रुपए में पम्पलेट, दीवार लेखन, माइकिंग तथा एक-हजार रुपए फोटोग्राफी के लिए नियत हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.