Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
जयंती पर याद किये गये किशोर कुमार, कलाकारों ने गीतों से बांधा समा छह अस्पतालों को मिली कायाकल्प अवार्ड की सौगात जनेश्वर मिश्र के जन्म दिन पर समाजवादियों ने निकाली साईकिल यात्रा दुर्भावना से ग्रस्त होकर भाजपा ने रोकी थी केजरीवाल सरकार की डोर डिलिवरी योजना 7 अगस्त को वितरित किया जायेगा दिव्यांगजनों को सहायता उपकरण जिले के 01 लाख 33 हजार व्यक्तियों को मिला अन्न योजना का लाभ कांग्रेस पिछड़ा वर्ग ने पद यात्रा निकालकर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन पंचायत अध्यक्ष संजय ने पात्रों में किया अनाज का वितरण साईकिल यात्रा निकालकर समाजवादियों ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना अन्न महोत्सव मंें विधायक संजय ने गिनाई उपलब्धियां

पुलिस मुठभेड़ में 25 हजार का इनामियां हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार

कबीर बस्ती न्यूज, बस्ती।

नगर. कप्तानगंज पुलिस व एण्टी व्हीकल थेफ्ट टीम की संयुक्त टीम द्वारा मु0अ0सं0 57/2021 धारा 392 थाना कप्तानगंज से वांछित व 25 हजार रुपये का इनामिया अभियुक्त श्यामसुंदर पुत्र शोहरत ग्राम नरायनपुर थाना नगर जनपद बस्ती को सोमवार को मैनहिया मेंड़ थाना नगर से पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार किया गया। मुठभेड़ के दौरान अभियुक्त श्यामसुंदर के दाहिने पैर में गोली लगी। घायल को इलाज हेतु जिला अस्पताल बस्ती भेजा गया। मुठभेड़ के दौरान आरक्षी प्रशान्त पाण्डेय थाना कप्तानगंज के दाहिने हाथ में गोली छूकर निकल गयी है।
पुलिस पर अवैध असलहे से फायर करने व अन्य बरामदगी के आधार पर थाना नगर पर मु0अ0सं0 109/2021 धारा 307 व मु0अ0सं0 110/2021 धारा 3/25/27 आयुध अधिनियम पंजीकृत कर आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। गिरफ्तार अभियुक्त के विरूद्व जिले के विभिन्न थानों मे गभीर प्रकृति के 18 मुकदमेें पंजीकृत हैं।
बरामदगी का विवरणः-
1. एक अदद पल्सर मोटर साईकिल बिना नम्बर प्लेट।
2. एक अदद तमंचा, दो अदद जिन्दा व एक अदद खोखा कारतूस 315 बोर।
पूछताछ का विवरणः-
पूछताछ में अभियुक्त श्यामसुंदर द्वारा बताया गया कि यह मोटरसाइकिल चोरी की है। जिसे मैं सितंबर 2018 में बस्ती बार-एसोसिएशन के बाहर से चुराया था । कप्तानगंज में 03.04.2021 को हुए आशा बहू के साथ छिनैती की घटना के बारे में पूछा गया तो अभियुक्त द्वारा बताया कि इस घटना को पिंटू शुक्ला निवासी थाना दुबौलिया जनपद बस्ती के साथ मिलकर मेरे द्वारा कारित किया था। आशा बहू के छिने हुए बैग से 10,000 नगद, एक टूटा-लॉकेट तथा कागजात मिले थे। लाकेट मैंने पिंटू शुक्ला को दे दिया था जबकि रुपया मेरे पास था जो खर्च हो गया। बैग व कागजात मैंने कुआनो नदी में दुबौलिया की तरफ जाते समय फेंक दिया था ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.