Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
‘महीने में आठ बार आयरन और छह महीने पर विटामिन ए सीरप का सेवन आवश्यक’’ बच्चों को विटामिन ए पिलाकर बाल स्वास्थ्य पोषण माह का शुभारंभ पेगासस साफ्टवेयर का इस्तेमाल भारतीय संस्थाओं और पत्रकारों पर करना देशद्रोह-महेन्द्र श्रीवासतव लक्ष्मण पाण्डेय हत्याकाण्ड के दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग, बबिता शुक्ल ने सौंपा ज्ञापन डॉ. अजीत प्रताप शिक्षक प्रकोष्ठ, गिरीश पाण्डेय को भाजपा पंचायत प्रकोष्ठ संयोजक बनाये जाने पर प्रसन्न... पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को विभिन्न पदों की सौंपी गयी जिम्मेदारी सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष पद का प्रेरक मिश्रा ने संभाला कार्यभार ब्लाक प्रमुखों को प्रशासनिक एंव वित्तीय अधिकार दिलाने के लिए किया जायेंगा प्रयासः राजेन्द्र प्रताप स... प्रभारी मंत्री ने कप्तानगंज ब्लाक में निरीक्षण कर जाना योजनाओं का हाल 25,000 के इनामिया वांछित अभियुक्त पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तारः-

मच्छरो के लिए अनुकूल परिस्थिति पैदा करने वाले देंगे जुर्माना, 24 घण्टें के अन्दर होगी कार्यवाही

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।
नगर पालिका और नगर पंचायत क्षेत्र में मच्छरो के लिए अनुकूल परिस्थिति पैदा करने वाले सरकारी, गैर सरकारी, निजी प्रतिष्ठान, संस्थान और गृह स्वामियों को जुर्माना देना होगा। उक्त जानकारी जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने दी है। उन्होने बताया कि महानिदेशक, चिकित्सा एंव स्वास्थ्य सेवाए द्वारा अवगत कराया गया है कि शासन द्वारा सभी नगर निकायों में मच्छरजनित परिस्थिति को समाप्त करने के लिए अधिसूचना जारी कर दी गयी है। इसका पालन कराया जाना अनिवार्य कर दिया गया है।
जिलाधिकारी ने नगर पालिका एवं नगर पंचायत के सभी ईओ को भेजे गये पत्र में निर्देशित किया है कि इस अधिसूचना का व्यापक प्रचार-प्रसार कराये। इसे तत्काल प्रभाव से लागू करें। इसका उल्लघंन करने वाले संस्था एवं गृह स्वामी को नोटिस जारी करें। यदि निर्धारित समय सीमा में संस्था या गृह स्वामी द्वारा नोटिस मंे उल्लिखित निर्देशों का समय से पालन नही किया जाता है, तो सेवा शुल्क सहित लागत की वसूली सुनिश्चित कराये। उन्होने सभी सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थाओं को पत्र भेजकर इसका अनुपालन कराने का निर्देश दिया है।
उन्होने कहा है कि किसी भी स्थान पर रूका हुआ या बहता पानी नही होना चाहिए, जिसमें कि मच्छर पनपते हो। ऐसे स्थान को चिन्हित कर नगर पालिका या नगर पंचायत उस स्थान के स्वामी को 24 घण्टे के भीतर नोटिस जारी करेंगे, ताकि वे इसका निस्तारण करा सके और मलेरिया, डेगू, कालाजार या कोई भी संचारी रोग न हो सके। यदि वह ऐसा नही करता है, तो नगर पालिका स्वयं पानी निस्तारण की कार्यवाही करेंगी तथा वह इसके लिए सेवा शुल्क सहित लागत की वसूली करेंगी।
जिले में आज से दस्तक अभियान शुरू हो गया, जो 25 जुलाई तक चलेगा। अभियान के दौरान आशा, आगनवाड़ी, एएनएम की टीम घर-घर जाकर 04 प्रकार की सूची तैयार करेंगी। इसमें प्रत्येक घर में बुखार पीड़ित, इन्फ्लूएन्जा लाइक बीमारी जैसे सर्दी, खासी, जुखाम, टीवी रोगी तथा कुपोषित बच्चों की सूची तैयार की जायेंगी। प्रत्येक घर पर भ्रमण के बाद टीम द्वारा स्टीकर भी लगाया जायेंगा। प्रत्येक बुखार रोगी एवं आईएलआई रोगी का इलाज निकट के सीएचसी या पीएचसी पर कराया जायेंगा।
एसीएमओ डाॅ0 फखरेयार हुसैन की अध्यक्षता में संचारी रोग नियंत्रण अभियान की समीक्षा की गयी। इसमें विभिन्न विभागों द्वारा माह के पहले 10 दिनों में आशानुरूप अच्छा कार्य किया गया है, जो राज्य औसत से मिलान करने पर अधिक पाया गया। उन्होने निर्देश दिया कि सभी विभागीय अधिकारी पूरे माह अपने विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों के कार्यो का भी समीक्षा करते रहे।
जिला मलेरिया अधिकारी डाॅ0 आईए अंसारी ने बताया कि इस वर्ष अभी तक जेई का कोई मरीज नही मिला है, एईएस का 09 मरीज पाये गये है, जिनका समुचित इलाज किया गया है। उन्होने बताया कि शासन के निर्देशानुसार तेज बुखार के मरीज के आवागमन के लिए 102 एंव 108 नम्बर की एंबुलेन्स प्रयोग में लाने की अनुमति प्रदान कर दी गयी है।
उन्होने कहा कि जेई के लिए अब स्ट्रप टाइपस अधिक हानिकारक है। यह चूहों, छछुन्दर में चिपके रहते है और घरों में आने जाने के दौरान मनुष्य को काटते है, जिससे की उन्हें तेज बुखार और झटका आने लगता है। इसका इलाज भी जेई/एईएस के अनुसार किया जाता है। इसलिए झाड़-झाड़ियों की सफाई और चूहो-छछुन्दर से सुरक्षा अधिक आवश्यक है। तेज बुखार आने पर इसका इलाज निकट के सीएचसी/पीएचसी पर ही कराये।
उन्होने बताया कि दूषित जल से भी वेक्टरजनित रोग होते है। इसलिए शुद्ध पेयजल पीने एंव खाना बनाने के लिए प्रयोग मे लाना अनिवार्य है। साथ ही 09 से 12 माह के बीच में पहला तथा 16 से 24 माह के बीच दूसरा जेई का टीका अवश्य लगवा लें। बैठक में पाथ से प्रशान्त कुमार, कृषि विभाग से अजय कुमार त्रिपाठी, उद्यान विभाग से आरबी मौर्या, शिक्षाधिकारी फैजान अहमद, सिचाई के सहायक अभियन्ता राजेश कुमार, बाल विकास से सरिता मौर्या, राजेश पाण्डेय, प्रमोद कुमार, राजेश पाठक, शैलेन्द्र कुमार चैधरी, सुनील यादव, अविनाश चन्द्र, विजय कुमार, विनोद कुमार आदि उपस्थित रहें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.