Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
समाजवादी पार्टी सांस्कृतिक प्रकोष्ठ पदाधिकारियों की घोषणा रोटरी ने ग्राम प्रधान को भेंट किया कोरोना से बचाव का संसाधान राज्य स्तरीय फार्म एन फ़ूड अवार्ड से नवाजे गए किसान संघर्ष और साधना की मिसाल है सप्रे जी का जीवन : हृदय नारायण दीक्षित फोकस्ड सैम्पलिंग में नहीं मिला एक भी कोरोना मरीज डीएम, एसपी ने किया जिला कारागार का किया गया आकस्मिक निरीक्षण यशकान्त सिंह अध्यक्ष, अनिल दूबे प्रमुख संघ के महामंत्री बन कोविड-19 से संबंधित आवश्यक मेडिकल सामग्री तैयार करने का उधम शुरू करें उधमी: डीएम कोविड-19 गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस प्राकृतिक तरीको से घटाए यूरिक एसिड का लेवल- डा.वी.के.वर्मा

तीन लाख एंटीजन जांच में मिले हैं सात हजार कोविड पॉजिटिव

– एंटीजन जांच से मरीजों की पहचान हुई है आसान

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

बस्ती। जनपद में हर रोज लगभग डेढ़ हजार लोगों की एंटीजन जांच की जा रही है। सात जुलाई तक लगभग तीन लाख लोगों की एंटीजन जांच की जा चुकी है, तथा जांच के बाद सात हजार से ज़्यादा कोविड पॉजिटिव सामने आ चुके हैं। जिनकी एंटीजन जांच निगेटिव आती है तथा उनमें कोविड के लक्षण होते हैं तो उन लोगों की आरटी पीसीआर जांच कराई जाती है।

इसके अलावा जिन लोगों को विदेश यात्रा, इलाज आदि के लिए कोविड जांच प्रमाण पत्र की जरूरत होती है, उनकी आरटीपीसीआर जांच कराई जाती है। यह कहना है एसीएमओ डॉ. एफ हुसैन का। डॉ. हुसैन ने बताया कि हर रोज जिले में लगभग डेढ़ हजार एंटीजन व लगभग ढ़ाई हजार जांच आरटीपीसीआर की हो रही है। एंटीजन जांच का परिणाम तत्काल मिल जाता है तथा आरटीपीसीआर का सैम्पल लेकर जांच के लिए मेडिकल कॉलेज के लैब में भेजना पड़ता है। मेडिकल कॉलेज से सभी सैम्पल की रिपोर्ट नहीं मिल पा रही है। ऐसे में कोविड मरीज की तात्कालिक पहचान में एंटीजन जांच सबसे कारगर साबित हो रही है। उन्होंने बताया कि जांच करने वाली सभी टीमों से कहा गया है कि वह किसी संभावित मरीज की सबसे पहले एंटीजन जांच करेगा। अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उसी रिपोर्ट के आधार पर तत्काल उसका इलाज शुरू कराया जाना है।

बाहर से आने वालों की एंटीजन जांच पर है जोर

कोविड की तीसरी लहर को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग रेलवे स्टेशन, शहर के बड़ेबन चैराहे पर टीम लगाकर महाराष्ट्र व सिद्धार्थनगर से आने वाले लोगों की जांच करा रहा है। एसीएमओ डॉ. हुसैन का कहना है कि सभी की सबसे पहले एंटीजन जांच की जाती है, उसमें से कुछ की आरटी पीसीआर जांच की जाती है। एंटीजन जांच की पॉजिटिव रिपोर्ट को फूल प्रूफ माना जाता है। अगर किसी व्यक्ति व उसके परिवार में कोविड के लक्षण नजर आएं तो उसे तत्काल अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर सबसे पहले एंटीजन जांच करानी चाहिए। रोग का तत्काल पता लगने से मरीज का समय से इलाज शुरू किया जा सकता है तथा रोग के फैलाव को रोकने में सहायता मिलती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.