Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
गायत्री शक्तिपीठ में श्रद्धापूर्वक मनाया गया गुरु पूर्णिमा पर्व स्व. विष्णुदत्त ओझा के पुण्य तिथि पर रक्तदान, संगोष्ठी 25 को, तैयारियां पूरी जवाहर नवोदय विद्यालय मे प्रवेष हेतु 11 अगस्त को विभिन्न केन्द्रों पर होगी परीक्षा विधायक संजय ने किया राशन कोटेदारों को भुगतान दिलाने की मांग डीएम. एसपी ने सुनीं फरियादियों की समस्याएं, दिए निर्देश  छिनैती व चोरी करने वाले अन्तर्जनपदीय गिरोह के दो शातिर पुलिस मुठभेड़ में गिरफतार बस्ती में चल रहे भोजपुरी फिल्म सतरंगी बालम में नजर आयेंगी फेमस हिरोइन नीलू शंकर इनकम टैक्स की रेड के खिलाफ आप कार्यकर्ताओं ने सौंपा ज्ञापन विधि सम्मत ही करें कानून का उपयोग -सौम्या अग्रवाल अस्पताल जाएं तो विशेष सतर्कता अपनाएँ : - सीएमओ

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत की स्थिति कई विकसित देशों से बेहतर: हर्षवर्धन

नई दिल्लीः केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने मंगलवार को कहा कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत की स्थिति सभी मापदंडों पर कई विकसित देशों से कहीं बेहतर है। उन्होंने देश में महामारी को मात देने वालों की संख्या में लगातार हो रही वृद्धि और मृत्यु दर में तेजी से आ रही कमी को रेखांकित किया। हर्षवर्धन ने कहा कि यह सभी संगठनों और देश के नागरिकों के संयुक्त प्रयासों का परिणाम है। उन्होंने ‘कोविड-19 : उद्योग के लिए सुरक्षित कार्यस्थल दिशा-निर्देश’ विषय पर केंद्रीय श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री संतोष गंगवार के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए एक पुस्तिका का विमोचन किया।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने हर्षवर्धन के हवाले से एक बयान में कहा कि ये दिशा-निर्देश औद्योगिक कामगारों के कल्याण में मदद करेंगे। दिशा-निर्देश कोविड-19 संबंधी जोखिम की पहचान में मदद के लिए नियोक्ताओं और कामगारों के लिए समग्र योजना निर्देश के रूप में काम करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार कामगारों के कल्याण के लिए कटिबद्ध है। देश के आर्थिक गतिविधियां शुरू करने की तरफ बढ़ने के साथ ही यह महत्वपूर्ण है कि औद्योगिक परिसरों के भीतर दिशा-निर्देशों का पालन किया जाए। हर्षवर्धन ने कहा कि वैज्ञानिक तरीके से रोकथाम, सावधानी और सकारात्मक दृष्टिकोण कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में मदद करेगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड-19 की स्थिति के संबंध में कहा, ‘‘कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में सभी मानकों में भारत कई विकसित देशों से कहीं बेहतर स्थिति में है। ठीक होने वालों की संख्या में लगातार वृद्धि और मृत्यु दर में लगातार कमी ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों द्वारा अपनाई गई कोविड-19 रोकथाम रणनीति की सफलता साबित की है। यह सभी संगठनों और देश के नागरिकों के संयुक्त प्रयासों का परिणाम है।” उन्होंने कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को सेवा उपलब्ध कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए ईएसआईसी अस्पतालों की सराहना की।

बयान में कहा गया कि मंत्री ने दोहराया कि जब तक महामारी का टीका नहीं आता तब तक मास्क या फेस कवर के रूप में, हाथों की स्वच्छता और भौतिक दूरी के रूप में ‘सामाजिक टीके’ का पालन किया जाना जरूरी है। इस अवसर पर संतोष गंगवार ने कहा कि औद्योगिक कामगारों की सुरक्षा के लिए ये दिशा-निर्देश लोगों को प्रोत्साहित करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘यह महत्वपूर्ण है कि हम खुद को वर्तमान स्थिति के लिए मानसिक रूप से तैयार करें और कोविड से बचने के कदमों के बारे में जागरूकता फैलाएं।”

Leave A Reply

Your email address will not be published.