Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
टीकाकरण में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर 06 प्रभारी चिकित्साधिकारियों तथा 04 खण्ड विकास अधिकारि...  धान क्रय केन्द्र के संचालन में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर गिरा तीन अधिकारियों पर कार्यवाही क... अगर बेटा परेशान करे तो मां-बाप डायल करें 14567 एल्डर हेल्पलाईन नम्बर कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु पर डीएम ने वितरित किया राज्य सरकार द्वारा घोषित रू0 50... समान वेतन, अधिकारों की मांग को लेकर संविदा कर्मियों ने मुख्यमंत्री को भेजा 7 सूत्रीय ज्ञापन व्यापारी से 10 लाख की रंगदारी मांगने वाले 3 अभियुक्त पहुंचे जेल छुट्टी बिताकर लौटने वालों की कोविड जांच के बाद ही होगी ज्वाइनिंग खेल के आयोजन में योगदान करने वालों को मिला पुरस्कार, प्रमाण-पत्र 45 बच्चों को ऑपरेशन से मिला नया जीवन महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल का जिले मे आगमन को लेकर तैयारियों की समीक्षा

साप्ताहिक माइक्रो प्लान में सेशनवार लक्ष्य निर्धारित करने का डीएम ने दिया निर्देश

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

जिले में प्रत्येक दिन 30 हजार लोगों को कोविड का टीका लगाने के लिए जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया है। विकास भवन सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होने कहा कि विभाग द्वारा एक दिन में अधिकतम 14400 लोगों का टीकाकरण कराया गया है। उन्होने साप्ताहिक माइक्रो प्लान में सेशनवार लक्ष्य निर्धारित करने का भी निर्देश दिया है।
उन्होने कहा कि प्रथम डोज लेने वाले लोगों की संख्या अधिक है। इसलिए प्रथम डोज एवं द्वितीय डोज का अलग-अलग लक्ष्य निर्धारित करें। प्रत्येक दिन शाम को ब्लाक में एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार की अध्यक्षता में बैठक करायी जाय तथा कमियों को दूर करके दूसरे दिन दूने गति से टीकाकरण कराया जाय।
समीक्षा में उन्होने पाया कि पिछले सप्ताह टीकाकरण के कुल 619 सेशन आयोजित हुए। इसमें से केवल 74 में ग्राम प्रधान, 82 में कोटेदार, 39 में लेखपाल तथा 19 में ग्राम सचिव उपस्थित हुए। इसके अलावा 264 सेशन में आगनवाडी कार्यकत्री, 100 में सफाई कर्मचारी, 111 में रोजगारसेवक तथा सर्वाधिक 539 में आशा उपस्थित हुयी। जबकि जिलाधिकारी ने पिछले सप्ताह बैठक में निर्देश दिया था कि ये शतप्रतिशत सेशन में उपस्थित रहेंगे। समीक्षा में उन्होने पाया कि राज्य में 45 प्रतिशत के सापेक्ष जिले में मात्र 29.2 प्रतिशत टीकाकरण हुआ है। पिछले महीने जिला प्रदेश में 52वें स्थान पर था जो अब 70वें स्थान पर आ गया है।
जिलाधिकारी ने इस स्थिति पर गहरा असंतोष व्यक्त किया है तथा सीएमओ तथा सभी अपर सीएमओ को गम्भीरता से अभियान संचालित करने का निर्देश दिया है। उन्होने कहा कि चारों अधिकारी तीन-तीन ब्लाक की प्रतिदिन स्वयं समीक्षा करें तथा कमियों को दूर करें। उन्होने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि प्रत्येक शाम को अभियान की समीक्षा करेे तथा अनुपस्थित पाये जा रहे कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही करें।
उन्होने डीपीआरओ तथा कार्यक्रम अधिकारी को निर्देशित किया कि ग्राम प्रधानों एवं सीडीपीओ एवं सुपरवाईजर को सक्रिय करें तथा टीकाकरण से वंचित लोगों को टीकाकरण केन्द्र पर लाना सुनिश्चित करें। उन्होने आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिया कि कोटेदारों के माध्यम से शतप्रतिशत टीकाकरण कराना सुनिश्चित करे।
बैठक में यूनिसेफ के आलोक राय ने बताया कि अधिकांश सेण्टर पर अपडेटेड डियुलिस्ट उपलब्ध नही रहती है। 47 सेण्टर की जॉच में केवल तीन जगह पर डियुलिस्ट पायी गयी। बैठक में सीडीओ डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति, सीएमओ डॉ0 अनूप कुमार, ज्वाइंट मजिस्टेªट/एसडीएम हर्रैया अमृत पाल कौर, एसडीएम आनन्द श्रीनेत, जीके झा, तहसीलदार प्रमोद कुमार, डीएसओ सत्यवीर सिंह, डीआईओएस डीएस यादव, ईओ नगर पालिका अखिलेश त्रिपाठी, डीडीओ अजीत श्रीवास्तव, प्रभारी चिकित्साधिकारीगण, बीडीओ, डॉ0 एके कुशवाहॉ, तथा विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहें।
बेसिक शिक्षा की उल्लेखनीय उपलब्धि-
जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल के निर्देश पर बेसिक शिक्षा अधिकारी जगदीश शुक्ल के नेतृत्व में अध्यापको ने लोगों को मोबाइल नम्बर पर काल करके उन्हें सेकेण्ड डोज लगवाने के लिए प्रेरित किया। इसका आशातीत परिणाम निकला। बैठक में जिलाधिकारी ने बताया कि विभाग के अध्यापको द्वारा फर्स्ट डोज लगवाने वाले 5000 लोगों को उनके मो0 नं0 पर काल किया। इसका परिणाम यह रहा कि एक सप्ताह के भीतर 3756 लोगों ने सेकेण्ड डोज लगवा लिया। जिलाधिकारी ने बैठक में इस कार्यवाही का सराहना किया तथा लोगों को इसे माड्ल के तौर पर लेते हुए कार्य सम्पादित करने का निर्देश दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.