Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
11 दिसम्बर को आयोजित होगा राष्ट्रीय लोक अदालत पूर्वांचल विकास बोर्ड के सलाहकार साकेत मिश्रा ने गिनाई भाजपा सरकार की उपलब्धियां पुलिस अधीक्षक ने किया यातायात माह नवम्बर-2021 का समापन अपर पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई सेवानिवृत्त कर्मचारियों की विदाई भारतीय एकता सदभावना मिशन के राष्ट्रीय महासचिव बने नोमान डीएम ने किया 2 किसान सेवा सहकारी समिति का औचक निरीक्षण कप्तानगंज की समिति पर बन्द मिला ताला छात्र संघ चुनाव में एनएसयूआई ने अंकुर पाण्डेय को घोषित किया अपना उम्मीदवार शिक्षकों ने बैठक में बनाया राष्ट्रीय आन्दोलन में हिस्सेदारी की रणनीति टीईटी परीक्षा के साल्वर गैंग के 5 गुर्गों को पुलिस ने किया गिरफ्तार ई0वी0एम0 एवं वी0वी0 पैट जागरूकता अभियान के तहत डीएम ने किया एल0ई0डी0 वैन को हरी झ्ांडी दिखाकर रवाना

जिले की हर गांव में वर्ष 2023 तक घर-घर पहुंचेगा नल जल कनेक्शन, दो लाख 22 हजार परिवारों के घर पानी पहुंचाने 1152 करोड़ रुपये की कार्य-योजना

बलौदाबाजार।7 अक्टूबर 2020/जल जीवन मिशन का मुख्य उद्देश्य समस्त ग्रामीण क्षेत्रों के प्रत्येक घरों मे नल कनेक्शन प्रदाय कर गुणवत्ता युक्त एवं शुद्ध पेयजल उपलबध कराना है्। राज्य शासन द्वारा जल जीवन मिशन के कार्यो को क्रियान्वित कर पूर्ण करने हेतु समय-सीमा प्रदेश के लिये वर्ष 2023 रखी गयी है । जिले मे जल जीवन मिशन के कार्याे के सूचारू रूप से क्रियान्वयन हेतु जिला कलेक्टर की अध्यक्षता मे जिला जल एवं स्वच्छता मिशन समिति ;क्ॅैडद्ध का गठन किया गया है। जिसमे कार्यपालन अभियंता, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, बलौदाबाजार सदस्य सचिव होंगे। इनके अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला जनसम्पर्क अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिम जाति विकास विभाग, वनमण्डल अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग, उप संचालक कृषि विभाग, कार्यपालन अभियंता, जल संसाधन विभाग बलौदाबाजार एवं कसडोल सदस्य के रूप मे शामिल है।
जिले के अंतर्गत कुल 956 ग्रामों मे 1259 बसाहटें हैं, जिसमे वर्तमान स्थिति में ग्रामीण परिवारों की संख्या 2,43,064 है जिसमे से 34,420 परिवारों को जिले मे संचालित 197 नलजल, 127 स्थल जल एवं मिनीमाता अमृत जलधारा योजना के तहत् नल कनेक्शन प्रदाय किया जा चुका है। जल जीवन मिशन के अंतर्गत पूर्व से संचालित नलजल योजनाओं मे रेट्रोफिटिंग (पुनः संयोजन) के माध्यम से नल कनेक्शन दिया जायेगा। रेट्रोफिटिंग के कार्य हेतु 119 ग्रामों को चयनित किया गया है, जिसमे आवश्यकता अनुसार टंकी निर्माण एवं पाईप लाईन विस्तार कर पेयजल सुविधा मुहैया कराया जायेगा। सबसे अधिक रेट्रोफिटिंग का कार्य बलौदाबाजार एवं पलारी विकासखण्ड मे क्रमशः 32 एवं 38 योजनाओं में किया जायेगा। इसी प्रकार भाटापारा विकासखण्ड मे 14, सिमगा में 15, कसडोल विकासखण्ड मे 5 एवं बिलाईगढ़ विकासखण्ड में 15 योजनाओं मे रेट्रोफिटिंग का कार्य किया जाना प्रस्ताविता है। जिस हेतु राशि रू. 53.37 करोड़ का प्रस्ताव तैयार किया गया है। जिसके तहत 43,360 परिवारों को इस योजना का लाभ मिलेगा। जिन ग्रामों मे कोई भी योजना नही है, वहाॅ नवीन नलजल अथवा सोलर आधारित योजना प्रस्तावित की जा रही है। जिसके अंतर्गत 337 ग्रामों मे सिंगल विलेज स्कीम से नलजल प्रदाय योजना तथा 100 ग्रामों मे सोलर आधारित मिनी नलजल प्रदाय योजना प्रस्तावित है एवं 65 ग्रामों की सोलर आधारित मिनी नलजल योजना स्वीकृत हो चुकी है। जिसके तहत 3,161 परिवारों को नल कनेक्शन प्रदाय कर पेयजल सुविधा का लाभ दिया जायेगा। इसके अतिरिक्त जिले के अंतर्गत 6 विकासखण्ड के 400 ग्रामों मे नलजल योजना एवं नल कनेक्शन हेतु 12 समूह जल प्रदाय योजनाये तैयार की जा रही है, जिसमे सतही जल का उपयोग किया जायेगा। इससे 105327 परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन उपलब्ध कराया जायेगा। इस तरह जिले के ग्रामीण क्षेत्रों मे निवासरत कुल 2,22,259 परिवारों को नल कनेक्शन प्रदाय करने हेतु लागत रू 1552 करोड़ की कार्ययोजना तैयार की गयी है। घरेलू नल कनेक्शन प्रत्येक घर मे पर्याप्त मात्रा मे प्रदाय करने हेतु लगाया जायेगा। अगर कोई टूल्लुपम्प का उपयोग करता है तो फल्यूड कण्ट्रोल वाल्व बंद हो जायेगी। कलेक्टर महोदय के द्वारा जल जीवन मिशन के कार्यो के गुणवत्ता परीक्षण हेतु सभी एसडीएम को निर्देशित किया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.