Logo
ब्रेकिंग न्यूज़

115 व्यक्तियों को दवा का किट न वितरित किए जाने पर डीएम खफा, लगाईं फटकार

बस्ती।  कोविड-19 के 357 होमआईसोलेटेड व्यक्तियों में से 115 व्यक्तियों को दवा का किट न वितरित किए जाने पर जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने असंतोष व्यक्त किया है। उन्होने सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिया है कि आरआरटी टीम द्वारा मरीज के पहले विजिट के दौरान ही दवा का किट दिया जाय तथा उसको खाने का विधि एवं बरती जाने वाली सावधानियों की जानकारी दी जाय।
उन्होने कहा कि मरीज को चार दिन के भीतर पहला विजिट करने एवं मेडिसिन किट उपलब्ध कराने से मृत्यु की खतरा कम हो जाता है। समीक्षा में उन्होने पाया कि 03 मई को कुल 357 होमआईसोलेटेड व्यक्तियों में से 04 दिन के भीतर केवल 112 लोगों का भ्रमण किया गया तथा उन्हें दवा दी गयी। 05 से 07 दिन के भीतर 65 तथा 07 दिन से अधिक 65 लोगों का विजिट किया गया। शेष 115 लोगों का विजिट ही नही किया गया।
उन्होने निर्देश दिय है कि कोविड-19 से मृत्यु दर को कम करने में पहले विजिट में ही मेडिसिन किट उपलब्ध कराना अधिक फायदेमन्द है। उन्होने कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज की प्रारम्भ में ही समुचित देख-भाल करने से मृत्यु दर कम हो जाती है। इसके लिए उन्होने आरआरटी टीम को अधिक सक्रिय करने का निर्देश दिया है। उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि सभी एमओआईसी रेण्डमली कुछ कोरोना संक्रमित व्यक्तियों से प्रतिदिन वार्ता करे तथा उनकी समस्याओं का निराकरण करें।