Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
अयोध्या में बनेगा अनूठा मंदिरों का संग्रहालय, प्राचीन शैलियों के मंदिरों के बनाए जाएंगे कई मॉडल अंसल एपीआई के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा, पुलिस कमिश्नर से अंसल के खिलाफ लखनऊ में दर्ज मु... कोटे के दूकान के आवंटन की मांगः डीएम को सौंपा ज्ञापन सदर विधायक महेन्द्र यादव ने मो. सलीम, शैलेन्द्र को बनाया प्रतिनिधि अदालत के आदेश के बाद भी नहीं मिला जमीन पर कब्जा, डीएम ने दिया कार्रवाई का निर्देश बच्चों के साथ ससुराल में शान्ती देवी ने शुरू किया धरना शासन के निर्देश पर हुआ परिषदीय स्कूलों की साफ—सफाई 01 जुलाई से 30 सितंबर तक संचालित किया जाएगा संभव अभियान,चिन्हित किये जायेंगे अतिकुपोषित बच्चे : सीडी... प्रतापगढ़: सिपाही संजय यादव की हत्या के मामले मे शामिल चार आरोपी पुलिस हिरासत में अलर्ट: प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 682 नए मामले

जहरीली शराब से मौतों के खिलाफ कांग्रेस ने किया धरना प्रदर्शन

शराब माफियाओं को है सरकार का संरक्षण- अंकुर वर्मा

हाथों में तख्तियां लेकर कांग्रेस नेताओं ने उठाये मुद्दे

संवाददाता,बस्ती। बुधवार को जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय पर जिलाध्यक्ष अंकुर वर्मा के संयोजन में प्रदेश नेतृत्व के आवाहन पर कोविड नियमों का पालन करते हुये धरना प्रदर्शन कर शराब माफियाओं के विरूद्ध कार्रवाई की मांग किया गया। ‘शराब माफियाओं को संरक्षण देना बंद करे भाजपा’ जहरीली शराब से पीड़ित परिवारों को न्याय दो’ शराब माफिया और भाजपा नेता ऋषि शर्मा को कठोर दण्ड दो’ जैसी हाथों में तख्तिया लिये कांग्रेस नेता सरकार का ध्यानाकर्षण कर रहे थे।
कांग्रेस अध्यक्ष अंकुर वर्मा ने कहा कि भाजपा की सरकार में अवैध शराब का निर्माण और उनका सरकारी दूकानों तक से सुनियोजित बिक्री का कारोबार सत्ता के संरक्षण में फल फूल रहा है। कहा कि अलीगढ की घटना सरकार के नाकामी का परिणाम है जिसमें 107 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी। कहा कि सरकार शराब माफिया और भाजपा नेता ऋषि शर्मा को कठोर दण्ड दे और समूचे प्रदेश में शराब माफियाओं, अवैध शराब के कारोबार पर अंकुश लगाते हुये जिम्मेदारों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाय। आरोप लगाया कि भाजपा सरकार के संरक्षण में शराब माफिया फल फूल रहे हैं।
कांग्रेस कार्यालय पर धरने में शामिल पूर्व विधायक अम्बिका सिंह, राम जियावन, प्रेमशंकर द्विवेदी, मो. रफीक खां, ज्ञानेन्द्र पाण्डेय ‘ज्ञानू’ राम भवन शुक्ल, विपिन राय, अनिल कुमार भारती आदि ने कहा कि भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल है। कोरोना के कहर में यह सरकार पूरी तरह से नाकाम साबित हुई। जहरीली शराब से मौतों के लिये सीधे तौर पर सरकार और तंत्र जिम्मेदार है। दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाय।
धरना प्रदर्शन में मुख्य रूप से भूमिधर गुप्ता, वृजेश पाल, नर्वदेश्वर शुक्ल, ज्ञान प्रकाश पाण्डेय, वृजेश कुमार आर्य, शिव विभूति मिश्र ‘पिन्टू’ अतीउल्ला सिद्दीकी, राकेश पाण्डेय, गायत्री गुप्ता, नीलम विश्वकर्मा, कु. कंचन, राधा देवी, गुड्डू सोनकर, लालजीत पहलवान, मनोज त्रिपाठी, अलीम अख्तर, सोमनाथ पाण्डेय, राहुल चैधरी, रविन्द्र चैधरी, शकुन्तला देवी, सुनील कुमार सिंह, लक्ष्मीकान्त मिश्र, रामकृष्ण दूबे, वीर यादव, फैज अहमद, राज सिंह, नरेन्द्र सिंह, अंकित कुमार, लवकुश गुप्ता आदि शामिल रहे।