Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
जयंती पर याद किये गये किशोर कुमार, कलाकारों ने गीतों से बांधा समा छह अस्पतालों को मिली कायाकल्प अवार्ड की सौगात जनेश्वर मिश्र के जन्म दिन पर समाजवादियों ने निकाली साईकिल यात्रा दुर्भावना से ग्रस्त होकर भाजपा ने रोकी थी केजरीवाल सरकार की डोर डिलिवरी योजना 7 अगस्त को वितरित किया जायेगा दिव्यांगजनों को सहायता उपकरण जिले के 01 लाख 33 हजार व्यक्तियों को मिला अन्न योजना का लाभ कांग्रेस पिछड़ा वर्ग ने पद यात्रा निकालकर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन पंचायत अध्यक्ष संजय ने पात्रों में किया अनाज का वितरण साईकिल यात्रा निकालकर समाजवादियों ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना अन्न महोत्सव मंें विधायक संजय ने गिनाई उपलब्धियां

वाम दलों ने मोटर साईकिल जुलूस निकालकर किया भारत बंद का समर्थन

तीन कृषि कानूनों के वापसी, समर्थन मूल्य पर कानून बनाने की मांग

बस्ती – भारत बंद आवाहन की कड़ी में शुक्रवार को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी पदाधिकारी, कार्यकर्ता और सम्बद्ध जन संगठनों के पदाधिकारी रोडवेज तिराहा स्थित भगत सिंह प्रतिमा के समक्ष एकत्र हुये। यहां से भाकपा नेता का. अशर्फी लाल, माकपा सचिव रामगढी चौधरी, सीटू नेता का.के. के. तिवारी, वीरेन्द्र प्रताप मिश्र के नेतृत्व में शहर के मुख्य मार्गो से होते हुये किसान आन्दोलन के समर्थन में बस्ती बंद का आवाहन करते हुये मोटर साईकिल जुलूस निकालकर शास्त्री चौक, दीवानी कचहरी होते हुये शिविर कार्यालय पहुंचे। यहां संक्षिप्त सभा में वक्ताओं ने केन्द्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों पर निशाना साधा।
का. अशर्फीलाल ने कहा कि भाजपा की सरकार में संविधान और लोकतांत्रिक मूल्यों की धज्जियां उड़ायी जा रही है। किसान अपने अधिकारों के लिये पिछले 4 माह से आन्दोलित है किन्तु यह सरकार उनकी आवाजों को अनसुनी कर रही है। सीटू नेता का. के.के. तिवारी ने कहा कि सरकार जब तक तीन कृषि काले कानूनों को वापस लेकर न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गारन्टी कानून नहीं बनाती आन्दोलन जारी रहेगा। खेत मजदूर यूनियन के जिला मंत्री का. वीरेन्द्र प्रताप मिश्र ने कहा कि जिस प्रकार से दिल्ली सरकार के अधिकार छीने गये इससे स्पष्ट है कि केन्द्र की सरकार तानाशाही रवैया अपना रही है।
मोटर साईकिल जुलूस में का. शेषमणि, सत्यराम, विफईराव, दीप नरायन मिश्र नवनीत कुमार यादव, राम सूरत, रामदयाल, रामलगन, सियाराम शंकर, वंदना चौधरी, शिवचरन, परमात्मा प्रसाद वर्मा, रामजी, कृष्णा चौधरी के साथ ही बड़ी संख्या में लोग शामिल रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.