Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
11 दिसम्बर को आयोजित होगा राष्ट्रीय लोक अदालत पूर्वांचल विकास बोर्ड के सलाहकार साकेत मिश्रा ने गिनाई भाजपा सरकार की उपलब्धियां पुलिस अधीक्षक ने किया यातायात माह नवम्बर-2021 का समापन अपर पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई सेवानिवृत्त कर्मचारियों की विदाई भारतीय एकता सदभावना मिशन के राष्ट्रीय महासचिव बने नोमान डीएम ने किया 2 किसान सेवा सहकारी समिति का औचक निरीक्षण कप्तानगंज की समिति पर बन्द मिला ताला छात्र संघ चुनाव में एनएसयूआई ने अंकुर पाण्डेय को घोषित किया अपना उम्मीदवार शिक्षकों ने बैठक में बनाया राष्ट्रीय आन्दोलन में हिस्सेदारी की रणनीति टीईटी परीक्षा के साल्वर गैंग के 5 गुर्गों को पुलिस ने किया गिरफ्तार ई0वी0एम0 एवं वी0वी0 पैट जागरूकता अभियान के तहत डीएम ने किया एल0ई0डी0 वैन को हरी झ्ांडी दिखाकर रवाना

वाम दलों ने मोटर साईकिल जुलूस निकालकर किया भारत बंद का समर्थन

तीन कृषि कानूनों के वापसी, समर्थन मूल्य पर कानून बनाने की मांग

बस्ती – भारत बंद आवाहन की कड़ी में शुक्रवार को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी पदाधिकारी, कार्यकर्ता और सम्बद्ध जन संगठनों के पदाधिकारी रोडवेज तिराहा स्थित भगत सिंह प्रतिमा के समक्ष एकत्र हुये। यहां से भाकपा नेता का. अशर्फी लाल, माकपा सचिव रामगढी चौधरी, सीटू नेता का.के. के. तिवारी, वीरेन्द्र प्रताप मिश्र के नेतृत्व में शहर के मुख्य मार्गो से होते हुये किसान आन्दोलन के समर्थन में बस्ती बंद का आवाहन करते हुये मोटर साईकिल जुलूस निकालकर शास्त्री चौक, दीवानी कचहरी होते हुये शिविर कार्यालय पहुंचे। यहां संक्षिप्त सभा में वक्ताओं ने केन्द्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों पर निशाना साधा।
का. अशर्फीलाल ने कहा कि भाजपा की सरकार में संविधान और लोकतांत्रिक मूल्यों की धज्जियां उड़ायी जा रही है। किसान अपने अधिकारों के लिये पिछले 4 माह से आन्दोलित है किन्तु यह सरकार उनकी आवाजों को अनसुनी कर रही है। सीटू नेता का. के.के. तिवारी ने कहा कि सरकार जब तक तीन कृषि काले कानूनों को वापस लेकर न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गारन्टी कानून नहीं बनाती आन्दोलन जारी रहेगा। खेत मजदूर यूनियन के जिला मंत्री का. वीरेन्द्र प्रताप मिश्र ने कहा कि जिस प्रकार से दिल्ली सरकार के अधिकार छीने गये इससे स्पष्ट है कि केन्द्र की सरकार तानाशाही रवैया अपना रही है।
मोटर साईकिल जुलूस में का. शेषमणि, सत्यराम, विफईराव, दीप नरायन मिश्र नवनीत कुमार यादव, राम सूरत, रामदयाल, रामलगन, सियाराम शंकर, वंदना चौधरी, शिवचरन, परमात्मा प्रसाद वर्मा, रामजी, कृष्णा चौधरी के साथ ही बड़ी संख्या में लोग शामिल रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.