Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
‘महीने में आठ बार आयरन और छह महीने पर विटामिन ए सीरप का सेवन आवश्यक’’ बच्चों को विटामिन ए पिलाकर बाल स्वास्थ्य पोषण माह का शुभारंभ पेगासस साफ्टवेयर का इस्तेमाल भारतीय संस्थाओं और पत्रकारों पर करना देशद्रोह-महेन्द्र श्रीवासतव लक्ष्मण पाण्डेय हत्याकाण्ड के दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग, बबिता शुक्ल ने सौंपा ज्ञापन डॉ. अजीत प्रताप शिक्षक प्रकोष्ठ, गिरीश पाण्डेय को भाजपा पंचायत प्रकोष्ठ संयोजक बनाये जाने पर प्रसन्न... पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को विभिन्न पदों की सौंपी गयी जिम्मेदारी सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष पद का प्रेरक मिश्रा ने संभाला कार्यभार ब्लाक प्रमुखों को प्रशासनिक एंव वित्तीय अधिकार दिलाने के लिए किया जायेंगा प्रयासः राजेन्द्र प्रताप स... प्रभारी मंत्री ने कप्तानगंज ब्लाक में निरीक्षण कर जाना योजनाओं का हाल 25,000 के इनामिया वांछित अभियुक्त पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तारः-

115 व्यक्तियों को दवा का किट न वितरित किए जाने पर डीएम खफा, लगाईं फटकार

बस्ती।  कोविड-19 के 357 होमआईसोलेटेड व्यक्तियों में से 115 व्यक्तियों को दवा का किट न वितरित किए जाने पर जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने असंतोष व्यक्त किया है। उन्होने सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिया है कि आरआरटी टीम द्वारा मरीज के पहले विजिट के दौरान ही दवा का किट दिया जाय तथा उसको खाने का विधि एवं बरती जाने वाली सावधानियों की जानकारी दी जाय।
उन्होने कहा कि मरीज को चार दिन के भीतर पहला विजिट करने एवं मेडिसिन किट उपलब्ध कराने से मृत्यु की खतरा कम हो जाता है। समीक्षा में उन्होने पाया कि 03 मई को कुल 357 होमआईसोलेटेड व्यक्तियों में से 04 दिन के भीतर केवल 112 लोगों का भ्रमण किया गया तथा उन्हें दवा दी गयी। 05 से 07 दिन के भीतर 65 तथा 07 दिन से अधिक 65 लोगों का विजिट किया गया। शेष 115 लोगों का विजिट ही नही किया गया।
उन्होने निर्देश दिय है कि कोविड-19 से मृत्यु दर को कम करने में पहले विजिट में ही मेडिसिन किट उपलब्ध कराना अधिक फायदेमन्द है। उन्होने कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज की प्रारम्भ में ही समुचित देख-भाल करने से मृत्यु दर कम हो जाती है। इसके लिए उन्होने आरआरटी टीम को अधिक सक्रिय करने का निर्देश दिया है। उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि सभी एमओआईसी रेण्डमली कुछ कोरोना संक्रमित व्यक्तियों से प्रतिदिन वार्ता करे तथा उनकी समस्याओं का निराकरण करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.