Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
जयंती पर याद किये गये किशोर कुमार, कलाकारों ने गीतों से बांधा समा छह अस्पतालों को मिली कायाकल्प अवार्ड की सौगात जनेश्वर मिश्र के जन्म दिन पर समाजवादियों ने निकाली साईकिल यात्रा दुर्भावना से ग्रस्त होकर भाजपा ने रोकी थी केजरीवाल सरकार की डोर डिलिवरी योजना 7 अगस्त को वितरित किया जायेगा दिव्यांगजनों को सहायता उपकरण जिले के 01 लाख 33 हजार व्यक्तियों को मिला अन्न योजना का लाभ कांग्रेस पिछड़ा वर्ग ने पद यात्रा निकालकर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन पंचायत अध्यक्ष संजय ने पात्रों में किया अनाज का वितरण साईकिल यात्रा निकालकर समाजवादियों ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना अन्न महोत्सव मंें विधायक संजय ने गिनाई उपलब्धियां

फोकस सैम्पलिंग में कवर की जाएंगी पचास प्रतिशत ग्राम पंचायतें

25 जुलाई तक चलेगा विशेष अभियान, कोविड मरीजों की होगी पहचान

कोविड की तीसरी लहर के प्रति सतर्क है

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

कोविड की तीसरी लहर के प्रति स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह सतर्क है। कोविड फोकस सैम्पलिंग के दौरान जिले की 50 प्रतिशत ग्राम पंचायतों में पहुंचकर स्वास्थ्य विभाग की टीम जांच करेगी। कोविड के मरीजों की पहचान कर उनका इलाज कराया जाएगा। उनके संपर्क में आए लोगों की जांच कराकर रोग के प्रसार को रोका जाएगा।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी फोकस सैम्पलिंग के कैलेंडर के अनुसार शुक्रवार से जांच अभियान शुरू किया गया है। यह अभियान 25 जुलाई तक चलेगा। कैलेंडर के अनुसार एक दिन में 10 प्रतिशत ग्राम पंचायतों में पहुंचकर वहां सैम्पलिंग करनी है। इसी तरह अलग-अलग पांच दिनों का अभियान चलाकर जिले की 50 प्रतिशत ग्राम पंचायतों में पहुंच कर स्वास्थ्य विभाग की टीम कोविड एंटीजन व आरटीपीसीआर जांच करेगी।

लक्ष्य का 60 प्रतिशत जांच कैलेंडर के अनुसार

हर जिले के लिए सैम्पलिंग का लक्ष्य निर्धारित है। कैलेंडर की फोकस सैम्पलिंग के अनुसार की जा रही सैम्पलिंग में 60 प्रतिशत एंटीजन व 60 प्रतिशत आरटीपीसीआर जांच  की जाएगी। हर ब्लॉक में प्रतिदिन न्यूनतम 50 एंटीजन व 150 आरटीपीसीआर का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। दोनों लक्ष्य का 60 प्रतिशत सैम्पलिंग फोकस सैम्पलिंग के तहत करने के लिए सीएमओ की ओर से निर्देशित किया गया है।

एंटीजन है पॉजिटिव तो नहीं लेंगे आरटीपीसीआर का सैम्पल

एसीएमओ डॉ. एफ हुसैन ने बताया कि किसी संभावित मरीज की एंटीजन जांच में अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उसका आरटीपीसीआर सैम्पल नहीं लिया जाएगा। जांच के लिए केवल उन्हीं का आरटीपीसीआर सैम्पल आगे भेजा जाएगा, जिनकी एंटीजन रिपोर्ट निगेटिव मिलेगी।

दुकानों पर होगी विशेष सैम्पलिंग

छोटी व भीड़-भाड़ वाली दुकानों पर विशेष रूप से कोविड की जांच की जाएगी। इसके अलावा, रेहड़ी, पटरी वाले, फल व सब्जी विक्रेता, जेल, स्कूल, कॉलेज व विद्यालय स्टॉफ, बाल सुधार गृह सहित ऐसे स्थान जहां पर काफी संख्या में लोग रह रहे हैं, वहां पर टीम भेजकर जांच कराई जाएगी। मॉल, छोटे मार्केट, किराना शॉप, सैलून, रेस्टोरेंट में भी जांच कराई जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.