Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
बभनान मे साप्ताहिक बन्दी के उल्लंघन को लेकर व्यापारियों ने सौंपा ज्ञापन भारत उदय का अभियानः पात्रों तक पहुंचा रहे हैं कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी रोटरी ग्रेटर ने शिविर लगाकर बाढ़ पीड़ितों में किया राहत सामग्री का वितरण प्राप्त शिकायतों का गुणवत्तापरक निस्तारण करना सुनिश्चित करें विभागीय अधिकारी-जिलाधिकारी गरीबों, असहायों को उचित एवं त्वरित न्याय दिलायें अधिकारीःदीपक मीणा वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक में जनपद के कृषि विकास हेतु प्राप्त हुए बहुमूल्य सुझाव पुण्य तिथि पर याद किये गये पत्रकार अनिल श्रीवास्तव, संगोष्ठी में विमर्श नव नियुक्त किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष एवम भाजयुमो का प्रदेश कार्यसमिति सदस्य बनाये जाने पर पूर्व ब्ल... दो सेना के जवानों के जिले मे आगमन पर जोरदार स्वागत, हुए विविध कार्यक्रमों का आयोजन मोटे अनाज में पोषक तत्वों की प्रचुरता को देखते हुए मोटे अनाज के उत्पादन को बढ़ाने पर दिया जा रहा है ...

फोकस्ड सैम्पलिंग में नहीं मिला एक भी कोरोना मरीज

– 16 से 25 जुलाई तक चलाया गया था विशेष अभियान
कबीर बस्ती न्यून,बस्ती।उ0प्र0।
जिले में चलाए गये कोविड फोकस्ड सैम्पलिंग अभियान में एक भी कोरोना का मरीज नहीं मिला है। 16 से 25 जुलाई तक कोरोना का विशेष जांच अभियान संचालित किया गया है। इस अभियान के दौरान सभी क्षेत्र व समूह की सैम्पलिंग कराई गई। इसका उद्देश्य कोरोना के प्रसार की आशंका का पता लगाकर उसकी रोकथाम करनी थी। इससे पूर्व भी चार बार इसी तरह का अभियान चलाया जा चुका है।
आईडीएसपी से जुड़े जिला सर्विलांस ऑफिसर डॉ. सी.एल. कन्नौजिया ने बताया कि शासन के दिशा-निर्देश पर 16 जुलाई से यह अभियान चलाया गया। इस दौरान शहर व ग्रामीण क्षेत्र में दोनों जगहों  पर सैम्पलिंग कराई गई। दस दिवसीय अभियान में नगरीय क्षेत्र में 46 जगह तथा ग्रामीण क्षेत्र में 326 जगहों पर यानि पूरे जिले में 372 जगहों पर जांच कराई गई। इस दौरान 9545 एंटीजन जांच व 15882 आरटीपीसीआर जांच कराई गई। सभी एंटीजन जांच मौके पर ही निगेटिव मिली थी। आरटीपीसीआर की भी जांच रिपोर्ट मिल चुकी है। कोई रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं मिली है।
बच्चों की जांच पर रहा फोकस
डॉ. कन्नौजिया ने बताया कि इस बार की जांच की यह विशेषता थी कि जांच का फोकस पांच से 18 साल तक के बच्चे थे। ऐसे समय में जबकि 18 साल से ऊपर वालों को कोविड का टीका लगाकर उन्हें प्रतिरक्षित किया जा रहा है। 18 साल से कम उम्र के लोगों के लिए खतरा बना हुआ है। इस आयु वर्ग में जांच कराकर यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा था कि इस आयु वर्ग में कोविड पॉजिटिव की स्थिति क्या है। सभी रिपोर्ट निगेटिव आई है, जो कोरोना के दृष्टिकोण से काफी सुखद स्थिति है।
अभियान के दौरान स्ट्रीट वेंडर्स, रेहड़ी-पटरी वाले, फल व सब्जी विक्रेता, छोटी व भीड़-भाड़ वाली बाजार, रेलवे स्टेशन, विद्यालय, बंद कैम्पस वाली जगहों, माल आदि जगहों पर जांच अभियान चलाया गया।
कोरोना का प्रसार रोकने के लिए करें प्रोटोकॉल का पालन
कोरोना का प्रसार रोकने के लिए कोविड प्रोटोकॉल का पालन जरूरी है। तीसरी लहर को रोकने के लिए प्रोटोकॉल का पालन अवश्य करें। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. एफ हुसैन ने बताया कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है। मॉस्क व दो गज की दूरी का पालन करें। हाथों की सफाई पर ध्यान दें। भीड़-भाड़ वाली जगहों पर बहुत जरूरी होने पर ही सावधानी के साथ जाएं। बच्चों को घर  से कम निकलने दें। 18 साल की उम्र पूरी कर चुके सभी लोग कोविड का टीका जरूर लगवाएं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.