Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
गायत्री शक्तिपीठ में श्रद्धापूर्वक मनाया गया गुरु पूर्णिमा पर्व स्व. विष्णुदत्त ओझा के पुण्य तिथि पर रक्तदान, संगोष्ठी 25 को, तैयारियां पूरी जवाहर नवोदय विद्यालय मे प्रवेष हेतु 11 अगस्त को विभिन्न केन्द्रों पर होगी परीक्षा विधायक संजय ने किया राशन कोटेदारों को भुगतान दिलाने की मांग डीएम. एसपी ने सुनीं फरियादियों की समस्याएं, दिए निर्देश  छिनैती व चोरी करने वाले अन्तर्जनपदीय गिरोह के दो शातिर पुलिस मुठभेड़ में गिरफतार बस्ती में चल रहे भोजपुरी फिल्म सतरंगी बालम में नजर आयेंगी फेमस हिरोइन नीलू शंकर इनकम टैक्स की रेड के खिलाफ आप कार्यकर्ताओं ने सौंपा ज्ञापन विधि सम्मत ही करें कानून का उपयोग -सौम्या अग्रवाल अस्पताल जाएं तो विशेष सतर्कता अपनाएँ : - सीएमओ

शंकर वार्ड शिव मंदिर तथा राम सप्ताह चौक मंदिर के आस- पास सुवरों द्वारा की जा रही गंदगी के विषय को बार-बार उठाने के उपरांत भी कोई कार्यवाही नहीं- पार्षद आशीष पुरोहित

I
भाटापारा। भाटापारा शहर धार्मिक कार्यक्रमों के नाम से पूरे अंचल में प्रसिद्ध है। शहर की समस्त मंदिरों में भजन कीर्तन रामायण सुंदरकांड आदि के पाठ निरंतर गति से चलते रहते हैं, जिस वजह से क्षेत्र की समस्त मंदिरों में भक्तजनों का भारी मात्रा में आना जाना भी लगा रहता है। अधिक मास के शुरू होने के बाद से शंकर वार्ड स्थित शिव मंदिर में लोगों का आना जाना लगा हुआ है। वही राम सप्ताह प्रांगण तथा लटूरिया मंदिर मैं भी अनवरत धार्मिक आयोजन होते रहते हैं। परंतु काफी वर्षों से कईया तालाब स्थित तथाकथित लोगों द्वारा सूवर पालन की वजह से इन क्षेत्रों में काफी गंदगी फैल रही है। सूवर पालन करने वाले सूवरों को सड़कों पर छोड़ देते हैं, जिस वजह से सूवर मंदिर के प्रांगण तथा अन्य क्षेत्रों को गंदा कर समुचित वातावरण को प्रदूषित करते हैं। धार्मिक लोगों के साथ-साथ समस्त वार्ड एवं क्षेत्रवासी भी इस समस्या से निजात पाने की राह देख रहे हैं। वार्ड वासियों कि समस्याओं को ध्यान में रखते हुए पार्षद आशीष पुरोहित ने बताया कि इस समस्या के हल उपरांत भाटापारा नगर पालिका को कई बार मौखिक तथा लिखित तौर पर अवगत कराया है, परंतु पालिका के अधिकारियों द्वारा बार-बार सिर्फ आश्वासन दिया जा रहा है।जबकि ऐसे विषय पर तत्काल कार्रवाई होनी चाहिए। पूरे भारत में जहां एक तरफ स्वच्छ भारत मिशन चल रहा है।वही भाटापारा नगर पालिका द्वारा इस गंदगी को रोक पाने में असफल उनकी कथनी और करनी को जगजाहिर करता है। अगर समय रहते समस्या का निदान नहीं किया गया तो कोई ठोस निर्णय लेने वार्ड वासी तथा हम बेबस होंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.