Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
रेलवे से रिटायर्ड इंजीनियर को दबंग ठेकेदार ने अपने दो साथियों के साथ रात भर बंधक बनाकर पीटा राखी बंधवाने आए एक युवक की दो लोगों ने ब्लेड से रेत दिया गला, आरोपियों के तलाश मे पुलिस राज्य कर्मचारियों ने निकाली तिरंगा यात्राः डीएम ने बढाया हौसला एपीएन के छात्रों ने निकाली तिरंगा यात्रा पोषण व पुनर्वास केन्‍द्र में भर्ती बच्‍चों ने एक दूसरे को बांधी राखी गर्भावस्था में महिलाएं हो सकती हैं वैनिशिंग ट्विन सिंड्रोम की शिकार नगर पंचायतों में जलकर प्राप्त करने के लिए डीएम ने दिए निर्देश बेगम खैर गर्ल्स इण्टर कालेज की छात्राओं ने निकाली तिरंगा यात्रा 14 अगस्त को आयोजित हो रहे तिरगां यात्रा को लेकर तैयारियों पर चर्चा आज मेट्रो ट्रेन मॉडल का वर्चुअल अनावरण करेंगे मुख्यमंत्री योगी

बच्चों के साथ ससुराल में शान्ती देवी ने शुरू किया धरना

कबीर बस्ती न्यूज:

बस्ती। वाल्टरगंज थाना क्षेत्र की केउवां जप्ती निवासिनी शान्ती देवी पत्नी बालकेश ने अपने पति के मकान में रहने देने की गुहार जिलाधिकारी से लगाया है। शान्ती देवी अपनी पुत्री पूजा और पुत्र विवेक के साथ केउवां जप्ती स्थित अपने ससुराल में घर के सामने न्याय के लिये धरना दे रही है कि शायद उसके पति का मन बदल जाय।
डीएम को दिये पत्र में शान्ती देवी ने कहा है कि उसके पिता का देहान्त हो चुका है। उसके पति बालकेश पुत्र ठाकुरदीन और सास ने उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया। कुछ दिन वह नैहर में रहीं और जब पिता के निधन के बाद नैहर में भी ठिकाना नहीं मिला तो वह अपने ससुराल पहुंची और पति, ससुर, सास से विनती कर रही है कि उसे घर में रहने की जगह दे दिया जाय जिससे वह अपने बच्चों का पालन पोषण कर सके। पत्र में उसने कहा है कि उसका अपने पति के साथ कोई तलाक नहीं हुआ है, वह खुले आकाश में दो बच्चों के साथ ससुराल में धरना देकर अपना हक मांग रही है। उसे पति द्वारा तीन हजार रूपये का भरण पोषण मिलता है किन्तु इस मंहगाई में उससे गुजारा संभव नही है। शान्ती देवी ने प्रशासन से मांग किया है कि उसकी स्थिति को देखते हुये पति, सास, ससुर के मकान में रहने दिया जाय जिससे उसके बच्चों का भविष्य सुरक्षित रहे।  पति के पास दो मकान है इसमें से कहीं भी ठिकाना मिल जाय तो वह रहने को तैयार है।