Logo
ब्रेकिंग न्यूज़

समस्याओं को लेकर भाकियू ने शुरू किया बस्ती तहसील परिसर में अनिश्चितकालीन धरना

बस्ती – भारतीय किसान यूनियन बस्ती सदर तहसील अध्यक्ष फूलचन्द चौधरी के नेतृत्व में किसानों, मजदूरों ने शुक्रवार को तहसील परिसर में धरना देकर गनेशपुर के हल्का लेखपाल को हटाये जाने, चकबंदी के दौरान 1991 से 2019 तक की त्रुटियों को दूर किये जाने की मांग किया। भाकियू नेताओं ने नायब तहसीलदार को 2 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा। फूलचन्द चौधरी ने कहा कि जब तक गनेशपुर के हल्का लेखपाल को हटाया नहीं जाता धरना अनवरत जारी रहेगा।
भाकियू जिलाध्यक्ष जयराम चौधरी, रामनवल किसान ने कहा कि यदि समस्याओं का शीघ्र निस्तारण न हुआ तो भाकियू किसान महापंचायत करने को बाध्य होगी।
धरने को सम्बोधित करते हुये भाकियू नेता त्रिवेनी चौधरी ने कहा कि ग्राम पंचायत गनेशपुर में चकबंदी के दौरान मृतक वारिस, रजिस्ट्री खारिज दाखिल आदि में व्यापक त्रुटियां है। हल्का लेखपाल अनिल कुमार श्रीवास्तव का स्थानान्तरण हो चुका है किन्तु वे अपने प्रभाव दबाव के चलते चार्ज नहीं दे रहे हैं। मांग किया कि हल्का लेखपाल अनिल कुमार से चार्ज लेकर राजस्व मामलों की उच्च स्तरीय जांच कराकर समस्याओं का समाधान कराया जाय।
बस्ती सदर तहसील परिसर में हुये धरने के दौरान मुख्य रूप से राम महीपत चौधरी, जगदीप चौधरी, मो. रफीक, धनुषधारी गुप्ता, दुर्गेश, आलोक चौरसिया, पारस गौतम, रामधीरज चौधरी, लल्ला चौधरी, दीपचंद सोनकर, रामफेर, राम सुरेमन, मो. शमी अंसारी, पारस, ब्रम्हजीत चौधरी के साथ ही बड़ी संख्या में भाकियू पदाधिकारी, किसान, मजदूर शामिल रहे।