Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
फाइलेरिया प्रभावित अंगों की सही देखभाल करें और राहत पाएँ : डीएमओ गन्ना लदे ट्राले के पलटने से,ड्राइवर की हुई मौत बस्ती के 2 वर्ष 8 माह के बच्चे आर्यन ने बनाया एक और विश्व रिकॉर्ड पुण्य तिथि पर याद किये गये आलोचना सम्राट आचार्य रामचन्द्र शुक्ल शिविर में पथ विक्रेताओं को दिया कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी सम्पूर्ण समाधान दिवस तहसील भानपुर में 04 को प्रकरणों के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण न किए जाने पर डेढ़ दर्जन अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस मुख्यमन्त्री मत्स्य सम्पदा योजना प्रारम्भ वरिष्ठता सूची जारी करने की मांग को लेकर बीएएसए को सौंपा ज्ञापन शाइन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस में विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

विधायक संजय ने 43 मनमाने पट्टों के आवंटन मामले में मुख्यमंत्री को भेजा पत्र

उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा के विरूद्ध कार्रवाई की मांग

बस्ती – रूधौली विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने 43 लोगों को अवैधानिक रूप से पट्टा दिये जाने के मामले में मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर जांच अधिकारी राजेश सिंह की आख्या के आधार पर उप जिलाधिकारी बस्ती सदर आशाराम वर्मा के विरूद्ध कड़ी विधिक कार्यवाही किये जाने की मांग किया है।
मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने कहा है कि सल्टौआ विकास खण्ड के ग्राम पंचायत पोखरभिटवा में तत्कालीन उप जिलाधिकारी ने पैसे के बल पर ऐसे लोगों को आवासीय पट्टा दे दिया गया जो दो तीन कोठियों और कई एकड़ जमीनों के मालिक हैं। पत्र में कहा गया है कि प्रकरण संज्ञान में आने के बाद भाजपा किसान मोर्चा उपाध्यक्ष चन्द्रेश प्रताप सिंह के द्वारा भी तत्कालीन जिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया गया किन्तु जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा के स्वजातीय एवं कृपा पात्र होने के कारण कोई कार्यवाही नहीं किया। विधायक संजय ने कहा है कि उन्होने स्वंय प्रभारी मत्री को पत्र के माध्यम से अवगत कराया।
विधायक संजय प्रताप ने कहा है कि समाचार पत्रों में प्रकरण की खबरों के प्रकाशन के बाद उप जिलाधिकारी राजेश सिंह ने 43 लोगांे के आवासीय पट्टा आवंटन की जांच किया। उनमें सभी के पास एक से अधिक मकान पाये गये। विधायक संजय ने कहा है कि वर्तमान मंे आशाराम वर्मा उप जिलाधिकारी बस्ती सदर पद पर नियुक्त हैं और इनके संरक्षण में खुले आम भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इससे जिला प्रशासन के साथ ही सरकार की भी छवि धूमिल हो रही है। शिकायतों के बावजूद आशाराम वर्मा पद पर बने हुये हैं। विधायक संजय ने मांग किया है कि उनके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाय।
यह जानकारी विधायक संजय के मीडिया प्रभारी अमर सोनी ने दी है।