Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
लगातार चौथी बार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य बने वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रेमशंकर द्विवेदी 08 अक्टबूर को लखनऊ जायेंगे कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ता व पदाधिकारी पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु सपा समर्थको ने किया हवन जयंती पर आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को किया नमन् उपेक्षित प्रतिमा को विकसित करने की मांग   आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को जयंती पर किया नमन गायत्री शक्तिपीठ पर महानवमी के दिन किया गया हवन, पूजन पुलिस अधीक्षक ने वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच किया बहादुरपुर पुलिस चौकी का उद्घाटन गैंगरेप का 1 आरोपी डाक्टर गिरफ्तार, दो अभी भी फरार सवारियां बिठा कर जा रही दो ट्रैक्टकर ट्राली समेत 3 वाहन सीज गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को पद से बर्खास्त करने की मांग

विधायक संजय ने 43 मनमाने पट्टों के आवंटन मामले में मुख्यमंत्री को भेजा पत्र

उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा के विरूद्ध कार्रवाई की मांग

बस्ती – रूधौली विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने 43 लोगों को अवैधानिक रूप से पट्टा दिये जाने के मामले में मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर जांच अधिकारी राजेश सिंह की आख्या के आधार पर उप जिलाधिकारी बस्ती सदर आशाराम वर्मा के विरूद्ध कड़ी विधिक कार्यवाही किये जाने की मांग किया है।
मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने कहा है कि सल्टौआ विकास खण्ड के ग्राम पंचायत पोखरभिटवा में तत्कालीन उप जिलाधिकारी ने पैसे के बल पर ऐसे लोगों को आवासीय पट्टा दे दिया गया जो दो तीन कोठियों और कई एकड़ जमीनों के मालिक हैं। पत्र में कहा गया है कि प्रकरण संज्ञान में आने के बाद भाजपा किसान मोर्चा उपाध्यक्ष चन्द्रेश प्रताप सिंह के द्वारा भी तत्कालीन जिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया गया किन्तु जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा के स्वजातीय एवं कृपा पात्र होने के कारण कोई कार्यवाही नहीं किया। विधायक संजय ने कहा है कि उन्होने स्वंय प्रभारी मत्री को पत्र के माध्यम से अवगत कराया।
विधायक संजय प्रताप ने कहा है कि समाचार पत्रों में प्रकरण की खबरों के प्रकाशन के बाद उप जिलाधिकारी राजेश सिंह ने 43 लोगांे के आवासीय पट्टा आवंटन की जांच किया। उनमें सभी के पास एक से अधिक मकान पाये गये। विधायक संजय ने कहा है कि वर्तमान मंे आशाराम वर्मा उप जिलाधिकारी बस्ती सदर पद पर नियुक्त हैं और इनके संरक्षण में खुले आम भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इससे जिला प्रशासन के साथ ही सरकार की भी छवि धूमिल हो रही है। शिकायतों के बावजूद आशाराम वर्मा पद पर बने हुये हैं। विधायक संजय ने मांग किया है कि उनके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाय।
यह जानकारी विधायक संजय के मीडिया प्रभारी अमर सोनी ने दी है।