Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
डीआरएमएस हास्पिटल अब जिला प्रशासन को दे रहा है चुनौती  मरीजों से कर रहा है छल बंदियों की संख्या को देखते हुए राज्य सरकार ने नई जेलों के निर्माण का लिया फैसला भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग की बडी कार्रवाई: अभियान में 150 से अधिक आरोपियों के खिलाफ मुकदमा उत्तर प्रदेश में 65 घंटे से चल रही बिजली कर्मियों की हड़ताल खत्म 45 साल महिला की गला रेतकर हत्या प्राणघातक चोट पहुंचाने के मामले में 3 महिलाओं सहित 9 लोगों की जमानत अर्जी खारिज कुशीनगर: अधिशासी अभियंता सहित तीन के खिलाफ मुकदमा लखनऊ: ऊर्जा मंत्री के साथ संषर्घ समिति के नेताओं की बैठक निकला बेनतीजा, बिजली संकट बरकरार अमेठी: ट्रेनी विमान डायमंड-40 दुर्घटनाग्रस्त: पायलट व एक प्रशिक्षु पायलट की मौत लखनऊ: पुलिस के मनमानी पर हाईकोर्ट का पॉवर ब्रेक, डीजीपी को जारी करना पडा निर्देश

जन्म दिन पर याद किये गये पूर्व आईएएस मेधा संस्थापक लक्ष्मीकान्त शुक्ल

बस्ती – पूर्व आईएएस मेधा संस्थापक स्व0 लक्ष्मीकान्त शुक्ल को उनक 68 वें जन्म दिन पर बुधवार को याद किया गया। लोहिया मार्केट परिसर में  आयोजित  कार्यक्रम में  मेधा प्रवक्ता दीन दयाल त्रिपाठी ने कहा कि छात्रों को आर्थिक आधार पर शुल्क प्रतिपूर्ति और छात्रवृत्ति की सुविधा, जाति मुक्त संविधान की परिकल्पना देने वाले लक्ष्मीकान्त को सेवा काल में ही जाति राज पुस्तक लिखने के कारण बसपा की सरकार में उत्पीड़न का शिकार होना पड़ा। उनकी किताब जातिराज को तत्कालीन सरकार ने प्रतिबंधित कर दिया इसके बावजूद वे डिगे नहीं और शिक्षा, जातिगत आरक्षण के सवाल पर सड़क से सर्वोच्च न्यायालय तक आखिरी सांस तक लड़ते रहे।डीडी तिवारी ने कहा कि यदि लक्ष्मीकान्त शुक्ल के संकल्पों, सिद्धान्तों का दृढता से पालन हो तो अनेक समस्याओं का समाधान हो जायेगा। कहा कि मेधा उनके सपनों को पूरा करने की दिशा में निरन्तर प्रयत्नशील है, जब तक जाति मुक्त संविधान का सपना पूरा नहीं होता चरणबद्ध ढंग से संघर्ष अनवरत जारी रहेगा। कहा कि एकल पद में आरक्षण समाप्त किये जाने की जरूरत है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में संविधान के भावना की धज्जियां उड़ायी जा रही है। इसे मेधा चुनौती देगा। मेधा मण्डल अध्यक्ष अंकेश पाण्डेय ने कहा कि एससीएसटी एक्ट का दुरूपयोग कर सवर्णो का उत्पीड़न किया जा रहा है। निर्दोषोें के फर्जी मुकदमों की वापसी, फर्जी मुठभेड़ोें की जांव की मांग को लेकर मेधा संघर्ष तेज करेगी।पूर्व आईएएस मेधा संस्थापक स्व0 लक्ष्मीकान्त शुक्ल के चित्र पर माल्यार्पण कर नमन् करने वालों में उमेश पाण्डेय ‘मुन्ना’, जय प्रकाश गोस्वामी,  राहुल तिवारी, अनिल कुमार चौबे, आलोक शुक्ल, मनमोहन तिवारी, शशांक पाण्डेय, दुर्गेश मिश्र, प्रमोद पाण्डेय, विकास पाण्डेय, विकास तिवारी, देवेश पाण्डेय, गुड्डू मिश्र, दीपक मिश्र, प्रांजल पाण्डेय, वरूण पाण्डेय वत्स, विशाल शुक्ल, गगन पाण्डेय, आजाद तिवारी, चन्द्रशेखर चौधरी  आदि शामिल रहे।