Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
टीकाकरण में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर 06 प्रभारी चिकित्साधिकारियों तथा 04 खण्ड विकास अधिकारि...  धान क्रय केन्द्र के संचालन में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर गिरा तीन अधिकारियों पर कार्यवाही क... अगर बेटा परेशान करे तो मां-बाप डायल करें 14567 एल्डर हेल्पलाईन नम्बर कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु पर डीएम ने वितरित किया राज्य सरकार द्वारा घोषित रू0 50... समान वेतन, अधिकारों की मांग को लेकर संविदा कर्मियों ने मुख्यमंत्री को भेजा 7 सूत्रीय ज्ञापन व्यापारी से 10 लाख की रंगदारी मांगने वाले 3 अभियुक्त पहुंचे जेल छुट्टी बिताकर लौटने वालों की कोविड जांच के बाद ही होगी ज्वाइनिंग खेल के आयोजन में योगदान करने वालों को मिला पुरस्कार, प्रमाण-पत्र 45 बच्चों को ऑपरेशन से मिला नया जीवन महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल का जिले मे आगमन को लेकर तैयारियों की समीक्षा

प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी और लचर व्यवस्था के चलते सवा दो लाख नागरिकों ने अपनी जान गवाई: प्रेम शंकर

बस्ती। प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी और लचर स्वास्थ्य व्यवस्था के चलते करीब सवा दो लाख नागरिकों की मौत हो गयी। महामारी से जान गंवाने वाले नागरिकों के परिवारों को आर्थिक सहायता देकर उन्हे फिर से खड़ा होने का अवसर देने की जिम्मेदारी सरकार की हैं यह बातें कांग्रेस के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य एडवोकेट प्रेमशंकर द्विवेदी ने कही। उन्होने कहा स्वजनों को असमय खो चुके परिवारों पर मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा है।

लाखों परिवार गहरे सदमे मे हैं। जिन परिवारों ने अपना कमाऊ सदस्य खोया है उनकी सभी संभवनायें क्षीण हो गयी हैं। ऐसे में सरकार का नैतिक दायित्व है कि उन्हे आर्थिक मदद देकर सामान्य जीवन जीने का अवसर प्रदान करे। कांग्रेस नेता ने पीड़ित परिवारों को कम से कम 20 लाख रूपये की सहायता देने की मांग किया। उन्होने यह भी कहा है कि कोरोना टेस्टिंग से पहले सरकार नागरिकों का 50 लाख रूपये का बीमा कराये जिससे बीमा कम्पनी से क्षतिपूर्ति मिल सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.