Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
100 करोड़ कोविड टीकाकरण में जिले ने दिया 8.55 लाख का योगदान 28 अक्टूबर से 4 नवंबर तक किया जाएगा दीपावली मेला का आयोजन पौराणिक कूओ का जीर्णोद्धार एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम का शुरुआत ई-प्राजीक्यूशन पोर्टल पर नियमित रूप से मुकदमों का विवरण अपलोड करने के निर्देश कांग्रेस की बैठक में बनी प्रियंका गांधी के रैली की रणनीति श्री रामलीला महोत्सव में धनुषयज्ञ व परशुराम लक्ष्मण संवाद की लीला का हुआ मंचन,श्रद्धालु हुए मंत्रमुग... डियूटी मे लापरवाही बरतने वाले 7 पुलिस कर्मियों पर गिरी निलम्बन की गाज, विभागीय जांच शुरू कोरोना से बचने के लिए शुरु हुई फेस्टिवल फोकस्ड सैम्पलिंग प्रत्येक ब्लाक में प्रतिदिन 05 हजार कोविड टीकाकरण का लक्ष्य पूरा करने के निर्देश अतिवृष्टि से खराब हुयी फसल की क्षतिपूर्ति प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप पर आवेदन कर सकते हैं...

कोविड-19 की डियूट्ी कर रही आशा बहू के साथ छेडखानी, पुलिस ने दिया आरोपियों को अभयदान

– पीडिता के तहरीर पर कार्यवाही के बजाय पुलिस पीडिता के ही तीन परिजनों के विरूद्व किया शान्तिभंग की कार्यवाही
– घटना इटवा थाने के सेमरा गांव का, पुलिस ने आरोपियों का थाने से छोडा

बस्ती। मण्डल के सिद्वार्थनगर जनपद के इटवा थाने की पुलिस मानव से भगवान बन गई है। जो थाने मे ही बैठ कर सुदूर गांवों मे घटित होने वाली घटनाओं को सेकेन्डों मे देख लेती है। इटवा थाने के सेमरा गांव निवासी एक आशा बहू से छेडखानी के मामले मे इटवा पुलिस ने यही किया। पुलिस ने पीडित महिला को उसकी तहरीर लेकर कार्यवाही करने के बजाय मामले को झूठा बताते हुए पीडित महिला के परिवार को उल्टा 151 मे चालान कर छेडखानी व मारपीट के आरोपी गांव निवासी रामकुमार को अभयदान दे दिया। अंधेर नगरी चैपट राजा का कथन यहां सटीक बैठ रहा है। जबकि प्रदेश की योगी सरकार ने कडे निर्देश जारी किये हैं कि महिला अपराध से सम्बन्धित मामलों को गंभीरता से लेते हुए कार्यवाही किया जाये। लेकिन पुलिस आपने कारनामों से ही बाज नही आ रही है। मामला इटवा थाने के सेमरा गांव का है जहां कोविड-19 की डियूटी कर रही आशा सीमा देवी के साथ छेडखानी तथा मारपीट की घटना हुई। पीडिता ने थाने पर तहरीर दिया जिसे एसएसआई प्रदीप सिंह ने मामले को फर्जी बताते हुए थाने से भगा दिया गया।
मिली जानकारी के अनुसार इटवा थाने के सेमरा गांव निवासी आशा बहू सीमा देवी अपनी सहयोगी आशा बहू सुनीता देवी के साथ रविवार को प्रातः करीब 10 बजे कोविड-19 की डियूटी कर रही थी। कि उसी समय सेमरा गांव के ही रहने वाले रामकुमार ने सीमा के साथ छेडखानी करने लगा। जब पीडिता ने इसका विरोध किया तो मनबढ आरोपी महिला के साथ मारपीट करने लगा। महिला को मारने पीटने मे आरोपी रामकुमार के दोनों भाई राजकुमार व संजय भी शामिल बताए जा रहे है। पीडिता आरोपियों जान बचाने के लिए किसी घर मे घुसकर दरवाजा बन्द कर लिया। घटना की सूचना पीडिता सीमा ने 112 नम्बर पर दिया। लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने कोई कार्यवाही नही किया।
पीडिता सीमा अपने परिजनों के साथ इटवा थाने पर गई और तहरीर देकर आरोपियों के विरूद्व कार्यवाही की गुहार लगाई। लेकिन पुलिस ने पीडिता का आरोप फर्जी बताते हुए उसे थाने से ही भगा दिया। पुलिस ने पीडिता के घर के तीन लोगों को 151 मे चालान कर नामजद आरोपियों को अभयदान दे दिया। पीडिता ने कबीर बस्ती न्यूज को बताया कि थाने मे दरोगा जी ने हमें धमकाते हुए कई सादे पन्ने पर हस्ताक्षर भी करा लिए है।
प्रकरण के सम्बन्ध मे आईजी अनिल कुमार राय से पक्ष लिया गया तो उन्होेने बताया कि यह प्रकरण अभी हमारे मे नही आया है। आपने बताया है मामले मे पीडित महिला के तहरीर पर निश्चित रूप से उचित कार्यवाही की जायेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.