Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
लंदन की डिग्री, गोल्ड मेडल से सम्मानित हुये डा. वी.के. वर्मा वंचित छात्रों को शुल्क प्रतिपूर्ति, छात्रवृत्ति दिलाने की मांग को लेकर पद यात्रा निकालेगी मेधा सफाई कर्मचारी संघ: डीपीआरओ को सौंपा 12 सूत्रीय ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग पीएम आयुष्मान योजना: पहले से बना था कार्ड, मिला आयुष्मान का वरदान आदर्श पौधशाला तथा राजकीय सार्वजनिक उद्यान चंगेरवा का डीएम ने किया निरीक्षण डीएम के निर्देश पर रूधौली तहसील मे चला बृहद अवैध अतिक्रमण हटाओ अभियान डीएम ने दिया वाल्टरगंज चीनी मिल के कर्मचारियों का वेतन दिलाने का आश्वासन बीआरसी में तीन दिवसीय टीएलएम निर्माण कार्यशाला शुरू संविदा कर्मियों से परिषदीय शिक्षकों, शिक्षा मित्रों, अनुदेशकों की जांच का मामला गरमाया गांव – गांव में परिवार नियोजन की अलख जगा रहा है सारथी वाहन

राशन कोटेदार पर मनमानी का आरोप, कार्यवाही की मांग

बस्ती। बहादुरपुर विकास खण्ड के ग्राम पंचायत सोनहा के नागरिकों ने राजबहादुर के नेतृत्व में सोमवार को जिलाधिकारी और जिला पूर्ति अधिकारी को ज्ञापन देकर राशन कोटेदार रोशन अली पर खाद्यान्न हड़प लेने का आरोप लगाते हुये मामले की जांच, कार्रवाई और राशन कोटा निरस्त करने की मांग किया है।
ज्ञापन में ग्रामीणों ने कहा है कि कलवारी थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत सोनहा के राशन कोटेदार रोशन अली द्वारा बड़े पैमाने पर मनमानी की जा रही है। पिछले दो वर्षो से मशीन पर अंगूठा लगवाकर तीन महीने में एक बार निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य लेकर नियत मात्रा से भी काफी कम राशन दिया जाता है। कभी भी मशीन से निकली पर्ची नहीं दिया जाता, ग्रामीणों द्वारा विरोध करने पर कोटेदार द्वारा देख लेने की धमकी दी जाती है। राशन कोटेदार का कहना है कि वह अधिकारियों को हिस्सा देता है, उसका कोई कुछ नहीं बिगाड पायेगा। ग्रामीणों ने ज्ञापन में कहा है कि गत 12 मई को शिकायती पत्र दिया गया था, उस पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। कोटेदार धमकी दे रहे हैं कि शिकायत वापस ले लो वरना तुम सभी लोगों का राशन कार्ड निरस्त करवा देंगे। ग्रामीणों ने मांग किया है कि उक्त कोटा निरस्त कर नये सिरे से कोटे की दूकान का चयन कराकर दोषी कोटेदार के विरूद्ध कार्रवाई की जाय।
ज्ञापन सौंपने वालों में सोनहा, अईलिया, भेड़वा गांव के सरिता देवी, फूलचन्द, राजेश कुमार, राम कुमार, पूनम देवी, विवेक पाण्डेय, पंकज मौर्य, साहबराम, पर्मिला, अवधेश कुमार मौर्य, राम प्रीत, हृदयराम, कैलाशनाथ आदि शामिल रहे।