Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
फाइलेरिया प्रभावित अंगों की सही देखभाल करें और राहत पाएँ : डीएमओ गन्ना लदे ट्राले के पलटने से,ड्राइवर की हुई मौत बस्ती के 2 वर्ष 8 माह के बच्चे आर्यन ने बनाया एक और विश्व रिकॉर्ड पुण्य तिथि पर याद किये गये आलोचना सम्राट आचार्य रामचन्द्र शुक्ल शिविर में पथ विक्रेताओं को दिया कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी सम्पूर्ण समाधान दिवस तहसील भानपुर में 04 को प्रकरणों के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण न किए जाने पर डेढ़ दर्जन अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस मुख्यमन्त्री मत्स्य सम्पदा योजना प्रारम्भ वरिष्ठता सूची जारी करने की मांग को लेकर बीएएसए को सौंपा ज्ञापन शाइन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस में विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में नेताओं, कार्यकर्ताओं पर उत्पीड़न के खिलाफ सपा ने सौपा ज्ञापन

– भाजपा लोकतंत्र को समाप्त करना चाहती है

– सांसद, विधायकों के इशारे पर हो रहा है उत्पीड़न- महेन्द्रनाथ यादव

 कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।  

समाजवादी पार्टी  जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ यादव ने सोमवार को जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को प्रतिनिधि मण्डल के साथ ज्ञापन देकर कहा है कि सत्तारूढ भारतीय जनता पार्टी के जन प्रतिनिधियों, सांसद, विधायकों के इशारे पर जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव को लेकर पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं और स्वयं उनके ऊपर एवं परिवार के सदस्यों पर फर्जी मुकदमें दर्ज कराकर उत्पीड़न किया जा रहा है।
सपा जिलाध्यक्ष महेन्द्र ने मांग किया है कि मामलों की जांच कराकर उत्पीड़न की कार्रवाई बंद किया जाय। प्रेस को जारी विज्ञप्ति के माध्यम से महेन्द्रनाथ ने कहा कि उनके घर को बुलडोजर लगाकर गिराने का प्रयास किया गया, लगातार फर्जी मुकदमें दर्ज कराकर पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न किया जा रहा है। जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में पार्टी प्रत्याशी वीरेन्द्र चौधरी और सहयोगियों का उत्पीड़न किया जा रहा है। सपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी पर भी प्रशासन मनमाना दबाव बना रहा है।  सपा जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ ने कहा कि वे पार्टी के सिपाही है और धमकियों, जुल्म से डरने वाले नहीं है। भाजपा लोकतंत्र को समाप्त करना चाहती है जबकि सपा लोकतंत्र को बचाने के लिये संघर्ष कर रही है। उत्पीड़न, दमन  को पार्टी बर्दाश्त नहीं करेगी।
डीएम, एसपी को ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से सपा नेता चन्द्रभूषण मिश्र, चन्द्रिका यादव, सिद्धेश सिन्हा, जावेद पिण्डारी, यज्ञेश पाण्डेय, अरविन्द सोनकर, रामशंकर निराला, मो0 जावेद, अभिषेक उपाध्याय, राजेन्द्र यादव, शैलेन्द्र दूबे, डा. फूलदेव यादव, रामनाथ प्रजापति, सुरेन्द्र प्रसाद वर्मा, मो. हारिश, भोला पाण्डेय, फूलचन्द श्रीवास्तव, रामवृक्ष यादव, बब्लू निषाद, मो. साहिर, सुशील यादव, श्याम यादव, रजनीश यादव, संजय यादव, डब्लू यादव, अशोक यादव, लालमन आदि शामिल रहे।