Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
फाइलेरिया प्रभावित अंगों की सही देखभाल करें और राहत पाएँ : डीएमओ गन्ना लदे ट्राले के पलटने से,ड्राइवर की हुई मौत बस्ती के 2 वर्ष 8 माह के बच्चे आर्यन ने बनाया एक और विश्व रिकॉर्ड पुण्य तिथि पर याद किये गये आलोचना सम्राट आचार्य रामचन्द्र शुक्ल शिविर में पथ विक्रेताओं को दिया कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी सम्पूर्ण समाधान दिवस तहसील भानपुर में 04 को प्रकरणों के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण न किए जाने पर डेढ़ दर्जन अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस मुख्यमन्त्री मत्स्य सम्पदा योजना प्रारम्भ वरिष्ठता सूची जारी करने की मांग को लेकर बीएएसए को सौंपा ज्ञापन शाइन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस में विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

युवाओं का टीकाकरण एक लाख के पार पहुंचा

– खुद टीका लगवाने के बाद परिवार को भी कराएं प्रतिरक्षित
कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।
18 से 45 साल के युवाओं का कोविड टीकाकरण एक लाख के पार पहुंच चुका है। इस कैटेगरी का टीकाकरण जिले में 17 मई से शुरू हुआ है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से टीका लगवा चुके युवाओं से अपील की जा रही है कि वह परिवार के अन्य सदस्यों व आस-पड़ोस के लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. एफ हुसैन ने बताया कि 17 मई से पहले तक 45 साल से ऊपर वालों को कोविड का टीका लगाया जा रहा था। यह कार्यक्रम केंद्र सरकार की ओर से चलाया जा रहा था। कोविड में युवाओं की बड़ी संख्या को प्रभावित होते हुए देख कर राज्य सरकार की ओर से 18 से 44 साल तक के लोगों को टीका लगवाने का कार्यक्रम शुरू किया गया। जनपद स्तर पर यह कार्यक्रम 17 मई से शुरू हुआ। एक लाख से ज्यादा युवाओं को टीका लगाया जा चुका है। इस कैटेगरी के लगभग 50 युवाओं को दूसरी डोज भी लग चुकी है। उन्होंने कहा कि जो युवा खुद टीका लगवा चुके हैं, उनमें से काफी ऐसे हैं, जो अब परिवार के लोगों को बूथ पर लाकर टीका लगवा रहे हैं।
डॉ. हुसैन ने बताया कि इस समय पॉयलट प्रोजेक्ट वाले पांच ब्लॉकों बनकटी, हर्रैया, कप्तानगंज, गौर व बहादुरपुर में कलस्टर बनाकर टीकाकरण किया जा रहा है। इसके बाद से हर कैटेगरी के टीकाकरण में तेजी आई है। पहली जुलाई से सभी ब्लॉकों में कलस्टर बनाकर टीकाकरण कराया जाएगा। अभियान में जिले की 60 प्रतिशत आबादी को प्रतिरक्षित करने का लक्ष्य है।
कोविड प्रोटोकॉल का करें पालन
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने यह भी अपील की है कि जिन लोगों ने कोविड टीकाकरण करवा लिया है, वह भी प्रोटोकॉल का पालन सख्ती से करें। दो गज की दूरी, मॉस्क के इस्तेमाल और हाथों की स्वच्छता के नियम का कड़ाई से पालन होना चाहिए। ऐसा करके ही कोविड के प्रसार को रोका जा सकता है।