Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ शिशु स्वास्थ्य सेवाओं के लिए वरदान है एमसीपी कार्ड नवजात शिशु में जन्‍मजात विकृतियों को दूर करता है फोलिक एसिड गुरू जी की अकड पडी ढीली कर दिए गये निलम्बित दहेज उत्पीड़न के दो मामलों में 10 ससुरालियों पर केस पेन्शनर एसोसिएशन की बैठक 5 को पुरानी पेशन नीति बहाली की मांग को लेकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपेगे शिक्षक युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल पर विशेष कार्यशाला का शुभारम्भ इलाज के दौरान समझा टीबी मरीजों का दर्द,  अब बने मददगार  नोडल अधिकारी नीना शर्मा ने रुधौली ब्लाक में चौपाल लगाकर सुनीं समस्याऐ जिले की नोडल अधिकारी के निरीक्षण में सब कुछ मिला गुड ही गुड

महिला चिकित्सालय की व्यवस्था सुदृढ करने के लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देश

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने महिला चिकित्सालय की व्यवस्था सुदृढ करने के लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया है। महिला चिकित्सालय सीएमएस चेम्बर में आयोजित बैठक में उन्होने कहा कि आगामी 20 अगस्त तक सभी कार्य पूरे कराये। उन्होने ओपेक कैली अस्पताल के सीएमएस को निर्देशित किया है कि डा0 विभा सप्ताह में 03 दिन महिला चिकित्सालय में बैठकर रेडियोलॉजी संबंधी समस्त कार्य देखेंगी। उल्लेखनीय है कि महिला अस्पताल में कोई रेडियोलॉजिस्ट नही है, जिसके कारण एक्सरे एंव अल्ट्रासाउण्ड की रिपोर्ट नही मिल पा रही है तथा मरीजो को बाहर से इसे कराना पड़ता है। डॉ0 विभा तीन दिन के लिए जिला अस्पताल में बैठती है, अब वे तीन दिन के लिए महिला अस्पताल में बैठेंगी। उन्होने सामानों के कंडम निर्धारण समिति में टेक्नोलॉजिस्ट के नियमित रूप से अनुपस्थित पाये जाने पर उनको हटाकर बिजली विभाग के जेई को नामित कराने का निर्देश दिया है।
उन्होने जिला अस्पताल में संचालित सभी निर्माण कार्यो रख-रखाव संबंधी सिविल कार्यो के लिए आर0ई0डी0 विभाग को कार्यदायी संस्था नामित किया है। उल्लेखनीय है कि पिछले तीन-चार वर्षो अस्पताल के मेन्टेनेन्स कार्यो के लिए कोई टेण्डर नही कराया गया है, जिसके कारण सिविल वर्क बाधित हो रहा है। उन्होने ईओ नगर पालिका को निर्देश दिया कि महिला जिला अस्पताल के सभी सेफ्टी टैंक का साफ-सफाई करा दें। उन्होने महिला अस्पताल में पार्किंग व्यवस्था दुरूस्त कराने का निर्देश दिया है।
उन्होने अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करते हुए वहॉ अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किए जाने का निर्देश दिया है। सीएमएस डॉ0 सुषमा सिन्हा ने बताया कि विशेष रूप से ओ0पी0डी0 के समय तथा रात में सुरक्षा कर्मियों की आवश्यकता है। वर्तमान समय मे 04 पीआरडी की तैनाती है, जिनके कार्यो पर सीएमएस ने असंतोष व्यक्त किया। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि महिला अस्पताल में तैनात पीआरडी एवं अन्य सुरक्षा कर्मियों को उनकी डियूटी के संबंध में अलग से प्रशिक्षित किया जाय।
बैठक में सीडीओ डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति, एसीएमओ डॉ0 सीके वर्मा, डॉ0 फखरेयार हुसैन, डॉ0 आलोक कुमार, अर्थ एवं संख्याधिकारी टी0पी0 गुप्ता, डीपीएम राकेश पाण्डेय, ईओ अखिलेश त्रिपाठी तथा गुणवत्ता विशेषज्ञ डॉ0 अजय उपस्थित रहें।