Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
श्री अग्रसेन जी महाराज जयन्ती पर मरीजों में किया फल का वितरण दौड़ में संध्या, अंशू रहीं अव्वल, रेवरादास, निदूरी टीम का रहा दबदबा राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद साऊंघाट के  अधिवेशन में उठा पुरानी पेंशन नीति का मुद्दा 70 की उम्र में दी टीबी को मात..... बीपीएम ने गोद लेकर टीबी मरीज की की थी मदद 1 अक्टूबर को किसान मोर्चा द्वारा बृहद वृक्षारोपण कराने की बनी योजना सांसद ने किया गांव के लोगों के जीवन में गुणात्मक और रचनात्मक परिवर्तन लाने के लिए पूरी ईमानदारी और न... जनपद न्यायाधीश व जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से किया राजकीय सम्प्रेक्षण गृह (किशोर) का औचक निरीक्षण जिलाधिकारी कार्यालय पर होता है मुख्यमंत्री पोर्टल का मजाक मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान

बार बालाओं के डांस की खबर चलाने वाले तीन पत्रकारों पर मुकदमा

पत्रकारों पर दर्ज फर्जी मुकदमें को लेकर वेब मीडिया एसोसियेशन ने सौंपा ज्ञापन

– अन्न महोत्सव पर आयोजित कार्यक्रम में बार बालाओं को बुलाकर अश्लील डांस कराने का मामला

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

अन्न महोत्सव पर आयोजित कार्यक्रम में आयोजकों द्वारा बार बालाओं को बुलाकर अश्लील डांस कराने से सम्बन्धित खबर प्रकाशित करने पर संतकबीरनगर के तीन पत्रकारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किये जाने से नाराज पत्रकारों ने वेब मीडिया एसोसियेशन के बैनर तले मंडल अध्यक्ष महेन्द्र तिवारी के नेतृत्व में राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन डीएम के प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा।
सौंपे गये ज्ञापन में मामले की निष्पक्ष जांच कराने तथा दोषी पक्ष के विरूद्ध कार्यवाही किये जाने, बगैर साक्ष्य या पड़ताल के पत्रकारों के खिलाफ मनगढ़न्त मुकदमे दर्ज कराये जाने पर रोक लगाये जाने, दोषी पुलिस अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही किये जाने, संतकबीरनगर के धनघटा थाने में पत्रकारों पर दर्ज मनगढ़न्त मुकदमा वापस लिये जाने की मांग की गयी है। जिलाध्यक्ष सौरभ वी.पी. वर्मा ने कहा अन्यथा की स्थिति में पत्रकार आन्दोलन को आगे बढ़ाने को विवश होंगे। आपको बता दें संतकबीरनगर में धनघटा थाना क्षेत्र के बरगदवा गांव में भाजपा मंडल अध्यक्ष एवं कोटेदार ने भीड़ जुटाने के लिये बाल बालाओं को बुलाया था।
कार्यक्रम के दौरान बार बालाओं ने अश्लील डांस किये, लोग फब्तियां कसते देखे गये। कुछ पत्रकारों ने पूरी निष्पक्षता और जिम्मेदारी से ये खबर प्रकाशित की जिससे भविष्य में ऐसे आयोजनों पर रोक लगे। लेकिन खबर से नाराज भाजपा नेता ने पुलिस को तहरीर देकर तीन पत्रकारों समेत 8 के खिलाफ धनघटा थाने में मुकदमा दर्ज करवा दिया। पुलिस ने बगैर किसी साक्ष्य या पड़ताल के आनन फानन में मुकदमा दर्ज कर लिया। तहरीर में लिखा गया कि अन्न महोत्सव का कार्यक्रम खत्म होने के बाद पत्रकारों ने कूटरचित बैनर लगाकर खुद बार बालाओं का डांस करवाया और वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। कितना हास्यास्पद है ये।
इसी तरह सच को झूठ में बदलकर मीडिया को टारगेट किया जा रहा है। प्रदेश में नेताओं और पुलिस के गठजोड़ से ऐसे कृत्यों को अंजाम दिया जा रहा है जिससे सच्चाई जनता के सामने न आये और मनमानियां बखूबी जारी रहें। बगैर साक्ष्य के पत्रकारों पर मुकदमा दर्ज किये जाने के लिये पुलिस को रोका जाना चाहिये। ज्ञापन सौंपते समय वेब मीडिया एसोसियेशन के संयोजक अशोक श्रीवास्तव, वरिष्ठ पत्रकार संदीप गोयल, राजकुमार पाण्डेय, अरूणेश श्रीवास्तव, दिनेश कुमार पाण्डेय, दिलीप पाण्डेय, अनिल श्रीवास्तव, राकेश त्रिपाठी, राजेश पाण्डेय, कपीश मिश्रा, बजरंग प्रसाद शुक्ल, राजप्रकाश आदि मौजूद रहे।