Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
श्री अग्रसेन जी महाराज जयन्ती पर मरीजों में किया फल का वितरण दौड़ में संध्या, अंशू रहीं अव्वल, रेवरादास, निदूरी टीम का रहा दबदबा राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद साऊंघाट के  अधिवेशन में उठा पुरानी पेंशन नीति का मुद्दा 70 की उम्र में दी टीबी को मात..... बीपीएम ने गोद लेकर टीबी मरीज की की थी मदद 1 अक्टूबर को किसान मोर्चा द्वारा बृहद वृक्षारोपण कराने की बनी योजना सांसद ने किया गांव के लोगों के जीवन में गुणात्मक और रचनात्मक परिवर्तन लाने के लिए पूरी ईमानदारी और न... जनपद न्यायाधीश व जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से किया राजकीय सम्प्रेक्षण गृह (किशोर) का औचक निरीक्षण जिलाधिकारी कार्यालय पर होता है मुख्यमंत्री पोर्टल का मजाक मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान

शिक्षकों ने किया जनपद में स्थानान्तरण की मांग, सौंपा ज्ञापन

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ अध्यक्ष चन्द्रिका सिंह के नेतृत्व में शिक्षकों के एक प्रतिनिधि मण्डल ने जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी को मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन देकर जनपद के भीतर शिक्षकों के स्थानान्तरण एवं पारस्परिक स्थानान्तरण किये जाने की मांग किया।
ज्ञापन देते हुये  संघ अध्यक्ष चन्द्रिका सिंह ने बताया कि पिछले 10 वर्षो से विभाग में कोई स्थानान्तरण नहीं हुआ। शिक्षकांे को 60 से 70 किमी तक की दूरी तंय कर विद्यालय जाना पड़ता है। रामनगर, रूधौली के अध्यापकों को परशुरामपुर, विक्रमजोत व परसुरामपुर, विक्रमजोत  के अध्यापकों को बनकटी व रूधौली के विद्यालयों में नियुक्ति मिली है। महिला शिक्षक अपने छोटे बच्चों को साथ लेकर यह दूरी तय करने को मजबूर है।
जिला कोषाध्यक्ष दुर्गेश यादव ने कहा कि दूरी अधिक होने के कारण शिक्षकों को आये दिन मार्ग दुर्घटना का शिकार होना पड़ता है। अन्य विभागांें में सरकार प्रति वर्ष स्थानान्तरण करती है किन्तु बेसिक शिक्षकांे का स्थानान्तरण सरकार रोके हुये है। कहा कि जनपद के भीतर शिक्षकों का स्थानान्तरण एवं पारस्परिक स्थानान्तरण आवश्यक है।
ज्ञापन सौंपने वालों में जनपदीय उपाध्यक्ष सुधीर तिवारी, शिव प्रकाश सिंह, राकेश सिंह, राजेश गिरी, प्रवीन श्रीवास्तव, सुरेश गौड़, अशोक यादव, देवनाथ, रवि प्रकाश सिंह, लालेन्द्र, सौरभ पाण्डेय, डा. प्रमोद सिंह, वृजेश यादव, पवन यादव, अशोक चौधरी, प्रताप नरायन, सन्तोष पाण्डेय, भृगुवंश मणि, नीरज सिंह आदि शामिल रहे।