Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
लगातार चौथी बार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य बने वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रेमशंकर द्विवेदी 08 अक्टबूर को लखनऊ जायेंगे कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ता व पदाधिकारी पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु सपा समर्थको ने किया हवन जयंती पर आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को किया नमन् उपेक्षित प्रतिमा को विकसित करने की मांग   आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को जयंती पर किया नमन गायत्री शक्तिपीठ पर महानवमी के दिन किया गया हवन, पूजन पुलिस अधीक्षक ने वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच किया बहादुरपुर पुलिस चौकी का उद्घाटन गैंगरेप का 1 आरोपी डाक्टर गिरफ्तार, दो अभी भी फरार सवारियां बिठा कर जा रही दो ट्रैक्टकर ट्राली समेत 3 वाहन सीज गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को पद से बर्खास्त करने की मांग

पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी व उनके परिवार का करीब आधा दर्जन असलहा निरस्त करने की संस्तुति,हडकम्प

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

उप्र बस्ती जिले के प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी व उनके परिवार का करीब आधा दर्जन असलहा निरस्त करने की संस्तुति पर पूर्व मंत्री ने कहा  कि उनके ऊपर कोई भी ऐसा मुकदमा नहीं है, जिसमें असलहों का प्रदर्शन पाया गया है, जबकि उनके बेटे के खिलाफ षड्यंत्र कर एक घटना को पुलिस ने दर्शा दिया है। कहा है कि उनकी सुरक्षा खतरे में है, मगर सत्ता के इशारे पर उनके साथ अन्याय किया जा रहा है।  जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में सपा की ओर से पर्चा दाखिल किया गया तो सत्ता पक्ष बौखला गया है। उसी समय से वह लोग पुलिस व प्रशासन पर दबाव बनाकर पार्टी प्रत्याशी, जिलाध्यक्ष सपा का उत्पीड़न करते हुए कई स्थानों पर छापेमारी की। जब वह सफल नहीं हुए तो 28 जून को सत्ता पक्ष के लोगों के इशारे पर मेरा, मेरे पुत्र कविंद्र चौधरी व पत्नी कपूरा देवी का शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने की पत्रावली कोतवाली पुलिस से डीएम को संस्तुति कर भेज दी है। कहा कि वे 1980 से लगातार राजनैतिक जीवन में संघर्ष कर रहा हूं। आरोप लगाया कि मेरे व मेरे बेटे पर जो भी मुकदमा दर्शाया गया है वह सब चुनावी रंजिश या आंदोलनों का है। जबकि बेटे कविंद्र पर 207 में थाना कप्तानगंज में आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज है जिसके आधार पर लाइसेंस निरस्त करने की संस्तुति की गई है। जबकि पत्नी पर जो आरोप है उसमें उसका दोष मेरे बेटे व मुझ पर दर्ज मुकदमा को दर्शाते हुए असलहा निरस्त करने की संस्तुति दी गई है। कहा कि मेरी सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं है। यह साजिश है। प्रभारी डीएम सीडीओ डॉ. राजेश प्रजापति ने कहा कि ऐसा कोई मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। कोई पत्रावली मेरे सामने अब तक नहीं आई है। फिर भी यदि संस्तुति की गई है तो इसे देखा जाएगा।