Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान परिवहन निगम का बस स्टेशन शहर के बाहर बनवाने का प्रस्ताव शासन को भिजवाने का निर्देश डीएम ने किया ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव तथा पंचायत सहायकों से गांव के लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने... जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा 630 आंगनबाड़ी केंद्र गोद लिए जाने से होगा व्यवस्थाओं मे सुधार: स... अपने को एकाग्र करते हुए लक्ष्य पर ध्यान व लक्ष्य को हासिल कर परिणाम दें: डीआईजी प्राथमिक शिक्षक संघ रूधौली का त्रैवार्षिक अधिवेशन सम्पन्न राष्ट्र की उन्नति में पत्रकारों का योगदान अहम-डीएम पति की क्रूरता को नही सहन कर पायी विवाहिता फिर मौत को लगाया गले, आरोपी पति गिरफ्तार मुंबई के व्यापारी ने भाजपा सांसद व फिल्म अभिनेता रवि किशन शुक्ला के हड़प लिए 3.25 करोड़ रुपये, मुकदम...

तीसरी लहर रोकने को त्योहारों पर भी रहे कोविड प्रोटोकॉल का ख्याल

– आने वाले कुछ महीनों में रहेगी त्यौहार की धूम, बढ़ सकता है खतरा

– 18 साल की उम्र वाले जल्द से जल्द लगवाएं कोविड का टीका

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

आने वाले चार-पांच महीने में देश व प्रदेश में त्योहारों की धूम रहेगी। कृष्ण जन्माष्टमी, शिक्षक दिवस, नवरात्र, दशहरा, दीपावली, बाल दिवस और क्रिसमस जैसे बड़े पर्व इस दौरान मनाए जाएंगे। इन त्योहारों को विशेषकर अपने घर-परिवार और समुदाय के बीच मनाने की खास परम्परा रही है, लेकिन कोरोना के खतरे को देखते हुए इसमें विशेष सावधानी बरतने और परंपराओं में कुछ जरूरी बदलाव लाने की भी जरूरत है।

कोविड प्रोटोकॉल के तहत अगर त्यौहार मनाएं जाएंगे तो इनका रंग आगे भी बरकरार रहेगा। इसी के साथ समुदाय को कोरोना की संभावित तीसरी लहर से भी महफूज बनाया जा सकेगा। एसीएमओ, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. एफ हुसैन का कहना है कि इसके लिए जरूरी है कि अगर आप 18 साल के हैं और अभी तक कोविड का टीका नहीं लगवाया है तो बिना समय गंवाएं जल्द से जल्द टीका लगवा लें, और त्योहारों की धूम में भी मास्क, दो गज की दूरी और हाथों की स्वच्छता को न भूलें। बताया कि अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद के नेतृत्व में शासन का पूरा प्रयास है कि कोरोना की तीसरी लहर जैसी स्थिति उत्पन्न ही न हो।

इसके लिए ज्यादा से ज्यादा कोविड टीकाकरण व कोविड अनुरूप व्यवहार के बारे में समुदाय को जागरूक किया जा रहा है। यात्रा के दौरान भी खास सतर्कता बरतें और कोशिश करें कि इस दौरान छोटे बच्चों को साथ लेकर लम्बी यात्रा न करें। संभावित तीसरी लहर का सबसे अधिक असर उन्हीं पर पड़ने की आशंका जताई जा रही है। हम सभी ऐसा उपाय करें कि देश में तीसरी लहर की स्थिति ही न बन सके। बुजुर्ग, गर्भवती और बच्चों को तो खास तौर पर भीड़भाड़ वाले स्थानों जैसे पूजा पंडाल और मेला आदि में शामिल होने से बचना चाहिए, क्योंकि उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने के चलते संक्रमण की जद में जल्दी आने की सम्भावना रहती है।

रखें कोविड प्रोटोकॉल का ख्याल

किसी धार्मिक आयोजन में शामिल होते समय कोविड प्रोटोकॉल का पूरा ख्याल रखें। कोरोना से सुरक्षित रहने के लिए हर किसी का  स्वस्थ स्वास्थ्य व्यवहार को अपनाना बहुत जरूरी है। सार्वजनिक स्थलों पर खांसते-छींकते समय मुंह व नाक को रुमाल या टिश्यू पेपर से अवश्य ढक लें, और टिश्यू या मॉस्क को बंद डस्टबिन में ही डालें। हाथों को साबुन-पानी या सेनेटाइजर से स्वच्छ कर लें। प्रयास करें कि घर के बने खाने-पीने के सामान का प्रयोग करें। बाहर की वस्तु कई हाथों से होकर पहुंचती है, जिससे खतरा बढ़ जाता है।

यात्रा के दौरान रखें जरूरी ख्याल

त्योहारों पर अपने घर या रिश्तेदार के यहां जा रहे हैं, तो सार्वजनिक वाहनों से यात्रा के दौरान विशेष सावधानी बरतें। यात्रा के दौरान मॉस्क से नाक और मुंह को अच्छी तरह से ढककर रखें। एक दूसरे से उचित दूरी बनी रहे, बस-ट्रेन की खिड़की आदि को अनावश्यक छूने से बचें, सेनेटाइजर को जरूर पास रखें और हाथों की स्वच्छता बनाए रखें। यात्रा के दौरान बाहर का कुछ भी खाने-पीने से बचें।