Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
श्री अग्रसेन जी महाराज जयन्ती पर मरीजों में किया फल का वितरण दौड़ में संध्या, अंशू रहीं अव्वल, रेवरादास, निदूरी टीम का रहा दबदबा राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद साऊंघाट के  अधिवेशन में उठा पुरानी पेंशन नीति का मुद्दा 70 की उम्र में दी टीबी को मात..... बीपीएम ने गोद लेकर टीबी मरीज की की थी मदद 1 अक्टूबर को किसान मोर्चा द्वारा बृहद वृक्षारोपण कराने की बनी योजना सांसद ने किया गांव के लोगों के जीवन में गुणात्मक और रचनात्मक परिवर्तन लाने के लिए पूरी ईमानदारी और न... जनपद न्यायाधीश व जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से किया राजकीय सम्प्रेक्षण गृह (किशोर) का औचक निरीक्षण जिलाधिकारी कार्यालय पर होता है मुख्यमंत्री पोर्टल का मजाक मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान

हस्त शिल्प के विकास पर जोर, परिचर्चा में विविध पक्षों पर व्यापक विमर्श

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

हस्त शिल्प के माध्यम से आत्मनिर्भरता बढाने के उद्देश्य से आयोजित परिचर्चा का उद्घाटन करते हुये अपर जिलाधिकारी नीता यादव ने इसके निरन्तर विकास पर जोर दिया। वस्त्र मंत्रालय भारत सरकार के अंतर्गत कार्यालय विकास आयुक्त हस्तशिल्प, हस्तशिल्प सेवा केंद्र वाराणसी द्वारा जनपद के चौपाल हस्तशिल्प से परिचर्चा कार्यक्रम का आयोजन गौरीदत्त धर्मशाले में किया गया।
आचार्य रामचन्द्र शुक्ल की जन्मस्थली में हस्तशिल्पियों के विकास हेतु वस्त्र मंत्रालय भारत सरकार द्वारा चौपाल हस्तशिल्पियों से परिचर्चा में हस्त शिल्प विकास के विविध पक्षों पर विमर्श हुआ।
अपर जिलाधिकारी नीता यादव ने कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुये हस्तशिलिपयों का उत्साहवर्धन किया।  कार्यक्रम में, अब्दुल्लाह सहायक निदेशक हस्तशिल्प  वाराणसी,  शेर सिंह कालीन प्रशिक्षण अधिकारी व  रामजी त्रिपाठी उपस्थित रहे। कार्यक्रम में अपर जिलाधिकारी ने सभी हस्तशिल्पियों का आवाहन करते हुए उन्हें प्रधानमंत्री  के आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने तथा केंद्र एवं राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओ से जुड़कर अपनी आजीविका बढ़ाने के लिए प्रेरित किया। उन्होने हस्तशिल्पियों को वस्त्र मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जारी हस्तशिल्प पहचान पत्र भी वितरित किए। । हस्तशिल्प विभाग के सहायक निदेशक अब्दुल्ला जने हस्तशिल्पियों के उत्थान हेतु  भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं को विस्तार पूर्वक बताया तथा उन्होंने विशेष रूप से महिला हस्तशिल्पियों को अग्रिम पंक्ति मे आकार काम करने के लिए प्रेरित किया तथा महिला सशक्तिकरण पर विशेष जोर दिया।
इस अवसर पर समाजसेवी  देवी प्रसाद अपने अनुभवों से सभी हस्तशिल्प को अपने अनुभवों से लाभान्वित किया एवं उत्तरोत्तर विकास के पथ पर आगे बढ़ने को कहा। कार्यक्रम के अंत  शेर सिंह कालीन प्रशिक्षण अधिकारी व  रामजी त्रिपाठी द्वारा उद्बोधन के बाद  सभी हस्तशिल्पियों से संवाद स्थापित किया गया। कार्यक्रम के दौरान हस्तशिल्पी श्रीमती सुमन मिश्रा ने केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं से लाभ एवं अपने उन्नति की कहानी बयां की। कार्यक्रम का संचालन  सुभाष चंद्र शुक्ल ने किया।