Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
लगातार चौथी बार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य बने वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रेमशंकर द्विवेदी 08 अक्टबूर को लखनऊ जायेंगे कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ता व पदाधिकारी पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु सपा समर्थको ने किया हवन जयंती पर आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को किया नमन् उपेक्षित प्रतिमा को विकसित करने की मांग   आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को जयंती पर किया नमन गायत्री शक्तिपीठ पर महानवमी के दिन किया गया हवन, पूजन पुलिस अधीक्षक ने वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच किया बहादुरपुर पुलिस चौकी का उद्घाटन गैंगरेप का 1 आरोपी डाक्टर गिरफ्तार, दो अभी भी फरार सवारियां बिठा कर जा रही दो ट्रैक्टकर ट्राली समेत 3 वाहन सीज गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को पद से बर्खास्त करने की मांग

5 रूपया प्रति क्विंटल गन्ना मूल्य वृद्धि किसानों के साथ धोखा-दिवान चन्द

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

भारतीय किसान यूनियन के पूर्व मण्डल उपाध्यक्ष एवं सहकारी गन्ना समिति मुण्डेरवा के निवर्तमान अध्यक्ष दिवान चन्द पटेल ने केन्द्र सरकार द्वारा अगले पेराई सत्र के लिये 5 रूपया प्रति क्विंटल एफ.आर.पी. घोषित किये जाने पर चिन्ता व्यक्त किया है।
प्रेस को जारी विज्ञप्ति के माध्यम से दिवान चन्द पटेल ने कहा कि एक ओर तो केन्द्र सरकार किसानों की आय दो गुना कर देने की बात करती है दूसरी ओर गन्ना मूल्य केवल 5 क्विंटल प्रति क्विंटल बढाये जाने की घोषणा गन्ना किसानों के साथ भद्दा मजाक है। कहा कि खाद, बीज, कीटनाशक दवाओं, डीजल के साथ ही मजदूरी आदि में तेजी से वृद्धि हुई है ऐसे में गन्ना मूल्य की कीमत कम से कम 450 रूपया प्रति क्विंटल बढाया जाना चाहिये।
भाकियू नेता ने कहा कि चीनी मिलें अब गन्ने से चीनी के साथ ही अनेक उत्पाद बना रही है और ऐथनाल का उत्पादन बढाया गया है, इसका लाभ किसानों को नहीं दिया जा रहा है। उत्तर प्रदेश की सरकार ने तो अपने पूरे कार्यकाल में गन्ने की कीमत में कोई बढोत्तरी नहीं किया। चीनी मिलों पर गन्ना किसानों का अरबो रूपया बकाया है। ऐसे में किसान हित की बात किया जाना बेमानी है।
उन्होने चेतावनी दिया कि यदि गन्ने का मूल्य 450 रूपया प्रति क्विंटल  न किया गया तो भाकियू आन्दोलन करने को बाध्य होगी।