Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान परिवहन निगम का बस स्टेशन शहर के बाहर बनवाने का प्रस्ताव शासन को भिजवाने का निर्देश डीएम ने किया ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव तथा पंचायत सहायकों से गांव के लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने... जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा 630 आंगनबाड़ी केंद्र गोद लिए जाने से होगा व्यवस्थाओं मे सुधार: स... अपने को एकाग्र करते हुए लक्ष्य पर ध्यान व लक्ष्य को हासिल कर परिणाम दें: डीआईजी प्राथमिक शिक्षक संघ रूधौली का त्रैवार्षिक अधिवेशन सम्पन्न राष्ट्र की उन्नति में पत्रकारों का योगदान अहम-डीएम पति की क्रूरता को नही सहन कर पायी विवाहिता फिर मौत को लगाया गले, आरोपी पति गिरफ्तार मुंबई के व्यापारी ने भाजपा सांसद व फिल्म अभिनेता रवि किशन शुक्ला के हड़प लिए 3.25 करोड़ रुपये, मुकदम...

वेक्टरजनित रोगो के इलाज की समुचित व्यवस्था अस्पतालों मे उपलब्धःडॉ0 राजेश

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

वेक्टरजनित रोगो-जेई, एईएस, फाइलेरिया, मलेरिया, चिकुनगुनिया तथा कालाजार के इलाज की समुचित व्यवस्था जिला अस्पताल, ओपेक कैली अस्पताल तथा सीएचसी/पीएचसी पर है। उक्त जानकारी प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति ने दी है। उन्होने बताया कि बुखार प्रारम्भ होते ही निकट के सरकारी अस्पताल में इसकी जॉच कराकर इलाज कराये। उन्होने कहा कि इसके साथ ही डेंगू से बचाव के लिए घर में तथा आस-पास पर्याप्त सफाई रखें।
उन्होने कहा कि इसके लिए मच्छरों के पनपने के श्रोत को समाप्त किया जाना आवश्यक है।जहॉ पर एकत्र पानी को तत्काल नही हटाया जा सकता, वहॉ एन्टीलारवा छिड़काव कराया जाय ताकि मच्छर न पनपने पाये। डेंगू से बचाव के लिए घर के अन्दर कूलर, फ्रीज, गमले, पूराने टायर, टूटे-फूटे वर्तन मे पानी न जमा होने दें।
उन्होने कहा कि बुखार होने पर एंबुलेन्स 108 का उपयोग करें। जिले में कुल 35 एंबुलेन्स 108 है। उन्होने बताया कि मच्छर से बचाव के लिए मच्छरदानी का प्रयोग करें। चुॅकि डेंगू का मच्छर एडीज दिन में काटता है इसलिए दिन में भी फुल शर्ट पैंट पहने। घरों के ऊपर रखे पानी की टंकी हर हफ्ते साफ कराये।
सीएमओ डॉ0 अनूप कुमार ने बताया कि डेंगू का मरीज पाये जाने पर उसके घर तथा आस-पास के 50 घरों में दवा का छिड़काव किया जायेंगा। इसके लिए सभी सीएचसी/पीएचसी पर दवा उपलब्ध करा दी गयी है। एसीएमओ डॉ0 फखरेयार हुसैन ने कहा कि प्लैटलेट्स केवल डेंगू होने पर ही नही कम होता है बल्कि अन्य कारण से यह कम हो सकता है। इसलिए बुखार होने पर उसकी तत्काल जॉच कराये।
जिला मलेरिया अधिकारी आईए अंसारी ने बताया कि सभी सीएचसी/पीएचसी, ब्लाक में फॉगिंग मशीन उपलब्ध है, जिससे दवा का छिड़काव  किया जा सकता है। उन्होने बताया कि जनवरी 2021 से अब तक कुल 11 मरीज डेंगू के मिले है और सभी स्वस्थ्य हो गये है। वर्तमान समय में जिले में एक भी डेंगू का सक्रिय केस नही है। स्क्रब टाइफस के लिए चूहो का नियंत्रण किया जाना आवश्यक है।