Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
सपा की बैठक में निकाय चुनाव पर चर्चाः जावेद पिण्डारी, समीर चौधरी निकाय चुनाव प्रभारी बने अनिश्चितकालीन पूर्ण कार्य बहिष्कार करने के दृष्टिगत सभी विद्युत उपकेन्द्रों पर जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रे... अवैध अतिक्रमण करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर दर्ज कराएं एफआईआर: डीएम निकाय चुनाव के लिये ‘आप’ ने झोंकी ताकत, कार्यकर्ता सम्मेलन में बनी रणनीति जयन्ती पर याद किये गये प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद गोष्ठी के माध्यम से किसानों को दी गयी महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दीदी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा विश्व विकलांग दिवस पर पर दिव्यांगों को किया गया सम्मानित पत्नी के अपहरण की आशंका, पति ने लगाया न्याय की गुहार सिर्फ रक्त और यौन सम्पर्क से फैलता है एड्स, मरीजों से न करें भेदभाव विश्व एड्स दिवस: डीएम ने फीता काटकर किया हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ

21 सूत्रीय मांगो को लेकर शिक्षकों का बीआरसी केन्द्रों पर धरना 14 को

बैठक में बनी आन्दोलन की रणनीति, प्रधानाध्यापकों का पद समाप्त करने से रोष

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की बैठक माण्डलिक मंत्री योगेन्द्रनाथ पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद कार्यालय पर सम्पन्न हुई। बैठक में आगामी 14 सितम्बर को 21 सूत्रीय मांगो को लेकर  जनपद के सभी बीआरसी केन्द्रों पर आयोजित धरना प्रदर्शन की रणनीति तैयार किया गया।
माण्डलिक मंत्री योगेन्द्रनाथ पाण्डेय ने कहा कि परिषदीय विद्यालयों में सवा लाख प्रधानाध्यापकांें का पद समाप्त करने, पांच वर्ष में किसी भी शिक्षक की पदोन्नति न किये जाने, शिक्षकों को मोबाइल, लैपटॉप, इन्टरनेट सुविधा दिये बिना ऑन लाइन कार्य करने के लिये बाध्य किये जाने सहित 21 सूत्रीय मांगो को लेकर प्रदेश नेतृत्व के आवाहन पर  प्रदेश के सभी बीआरसी केन्द्रों पर आगामी 14 सितम्बर को शिक्षक धरना प्रदर्शन कर अपनी आवाज बुलन्द करेंगे।
प्राथमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष चन्द्रिका सिंह, जिला मंत्री बालकृष्ण ओझा ने व्लाक अध्यक्षों का आवाहन किया कि वे 14 सितम्बर के धरना प्रदर्शन में अपनी ताकत झांेक दें। कहा कि विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक, शिक्षा मित्र, अनुदेशक, विशेष शिक्षक कस्तूरबा गांधी विद्यालय के शिक्षक विभाग की उत्पीड़नात्मक कार्रवाई से त्रस्त हैं और उनकी जायज मांगो को अनुसुना किया जा रहा है, ऐसे में संघर्ष से ही समस्याओं का हल निकलेगा। जिला कोषाध्यक्ष दुर्गेश यादव ने कहा कि अनुदेशकांे का मानदेय 17000 रूपये से घटाकर 7000 रूपया कर दिया गया, शिक्षा मित्रों को शिक्षक से शिक्षा मित्र बना दिया गया। कस्तूरता गांधी बालिका आवासीय विद्यालयों के शिक्षकों में सभी योग्यता होने के बावजूद उन्हें स्थायी शिक्षक का वेतन नहीं दिया जा रहा है, विगत डेढ वर्ष से लगातार  एस्मा लगाकर शिक्षक और कर्मचारी संगठनों को आन्दोलन करने से रोका जा रहा है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा, शिक्षक हक के लिये संघर्ष जारी रखेंगे।
बैठक में मुख्य रूप से उमाकान्त शुक्ल, लालजी यादव, हृदय विकास, प्रवीन श्रीवास्तव, सुरेश गौड़, नन्दलाल, सत्य प्रकाश, अखिलेश सिंह, अनीस अहमद, अशोक यादव, डॉ. प्रमोद सिंह, सनद पटेल, वृजेश त्रिपाठी, चन्द्रशेखर, राजेश गिरी, सन्तोष मिश्र, कुंवर राकेश सिंह, विनोद यादव, आशीष दूबे, शिवरतन, राजकुमार तिवारी, रामसागर वर्मा, प्रताप नरायन, सन्तोष पाण्डेय, गणेश सिंह, शिव प्रकाश सिंह के साथ ही अनेक संघ   पदाधिकारी, शिक्षक शामिल रहे।